फेस्टिव सीजन में गिग इकॉनमी की धूम! ये शहर कर रहे केटरर, डेकोरेटर की जमकर डिमांड

डेकोरेटर, केटरर और इवेंट मैनेजर की मांग हजार शहरों और टाउन में तेजी से बढ़ी है. टियर-2 शहरों में हाइपर-लोकल सर्च इंजन जस्ट डायल पर अधिक ग्रोथ दिखी

फेस्टिव सीजन में गिग इकॉनमी की धूम! ये शहर कर रहे केटरर, डेकोरेटर की जमकर डिमांड
जस्ट डायल की रिपोर्ट के मुताबिक, नवरात्रि-दुर्गा पूजा के समय डेकोरेटर की मांग 141%, DJ की 113%, केटरर की 82%, इवेंट मैनेजर की 33% बढ़ी

फेस्टिव सीजन में डेकोरेटर, केटरर और इवेंट मैनेजर की मांग देश के हजार शहरों और टाउन में तेजी से बढ़ी है. खास तौर पर टियर-2 शहरों में हाइपर-लोकल सर्च इंजन जस्ट डायल पर अच्छी ग्रोथ देखने को मिली है.

कोरोना महामारी के बीच पिछले साल ठंडे माहौल में बीते फेस्टिव सीजन ने इस साल डिमांड को आकर्षित किया है. नवरात्रि और दुर्गा पूजा से लगी आयोजनों की कतार दिवाली तक बने रहने की उम्मीद है.

जस्ट डायल कंज्यूमर इनसाइट्स की रिपोर्ट के मुताबिक, नवरात्रि और दुर्गा पूजा के दौरान डेकोरेटर्स की मांग सालाना आधार पर 141 प्रतिशत, DJ की 113 प्रतिशत, केटरर्स की 82 प्रतिशत और इवेंट मैनेजर की 33 प्रतिशत अधिक रही.

रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि इस दौरान टियर-1 शहरों में केटरर की मांग में गिरावट रहीं. जस्ट डायल ने देश के हजार टाउन और शहरों के सर्च ट्रेंड के आधार पर रिपोर्ट तैयार की है.

डेकोरेटर

टियर-1 शहरों में डेकोरेटर की मांग टियर-2 के बराबर रही. कोलकाता, पुणे और आसनसोल सबसे अधिक मांग वाले शहर रहे. टियर-1 में कोलकाता, चेन्नई और बेंलगलुरू में सबसे अधिक सर्च हुईं. दिल्ली, मुंबई, हैदराबाद, पुणे और अहमदाबाद भी टॉप-10 में शामिल रहे.

टियर-2 शहरों में डेकोरेटर्स के लिए सबसे अधिक मांग पूर्वी भारत में देखने को मिली. पटना में इनकी मांग तीन गुना अधिक रही. वहीं, आसनसोल और दुर्गापुर में ग्रोथ रेट अच्छा रहा. गुवाहाटी, सिलिगुरी, रांची, कोयंबतूर, भोपाल, वाराणसी और धनबाद सबसे अधिक मांग वाले टॉप-10 शहरों में शामिल रहे.

इवेंट मैनेजर

इवेंट मैनेजर्स की मांग सालाना आधार पर 33 प्रतिशत बढ़ी. टियर-1 शहरों में टियर-2 जैसी की ग्रोथ हुई. टियर-1 में मुंबई, दिल्ली और हैदराबाद सबसे अधिक मांग वाले शहर रहे. टियर-2 में इवेंट मैनेजर की डिमांड में जयपुर सबसे आगे रहा. इसके बाद सूरत और लुधियाना में मांग सबसे अधिक रही. चंडीगढ़, भोपाल, लखनऊ, पटना, इंदौर, वडोदरा और कानपुर टॉप-10 में शामिल रहे.

केटर

टियर-2 में टियर-1 की तुलना में केटरर्स की मांग में अच्छी बढ़त हुई. टियर-2 वाले तिरुवनंतपुरम से सबसे अधिक केटरर्स की मांग रही. टियर-3 के कांगड़ा और सहारनपुर क्रमशः दूसरे और तीसरे स्थान पर रहे. टियर-2 में तिरुवनंतपुरम के अलावा इंदौर और रांची टॉप-3 में शामिल रहे. मुंबई, पुणे और चैन्नई टियर-1 के सबसे अधिक मांग वाले शहर रहे.

हमें फॉलो करें

(मार्केट अपडेट और जाने अमीर कैसे बने सिर्फ आपके Money9 हिंदी पर)

लेटेस्ट वीडियो

Money9 विशेष