Sansera Engineering IPO: क्यों ब्रोकरेज हाउस इसे सब्सक्राइब करने की दे रहे सलाह, जानिए

Sansera Engineering IPO: कंपनी के पास एक मजबूत प्रोडक्ट पोर्टफोलियो, एडवांस मैन्युफैक्चरिंग कैपेबिलिटी और मजबूत ट्रैक रिकॉर्ड है.

Sansera Engineering IPO: क्यों ब्रोकरेज हाउस इसे सब्सक्राइब करने की दे रहे सलाह, जानिए
कंपनी के सम्मानित भारतीय और ग्लोबल OEM के साथ मजबूत संबंध हैं. उनके पास सेग्मेंट, प्रोडक्ट, कस्टमर और ज्योग्राफी का एक अच्छा डायवर्सीफाइड पोर्टफोलियो है.

Sansera Engineering IPO: बेंगलुरु स्थित ऑटो कंपोनेंट मैन्युफैक्चरर संसेरा इंजीनियरिंग (Sansera Engineering IPO) का 1,282.98 करोड़ रुपये का IPO (इनिशियल पब्लिक ऑफरिंग) 14 सितंबर को मार्केट में आने के लिए तैयार है, ये इस कैलेंडर ईयर का 41 वां IPO होगा. तीन दिन का ये ऑफर 16 सितंबर को बंद होगा. इश्यू के लिए प्राइस बैंड 734-744 रुपये प्रति शेयर तय किया गया है, जिसकी फेस वैल्यू 2 रुपये प्रति शेयर है. एक इन्वेस्टर न्यूनतम 20 इक्विटी शेयरों और उसके मल्टीपिल में बोली लगा सकता है, उसके बाद प्राइस बैंड के हायर एंड में मिनिमम बिडिंग अमाउंट 14,880 रुपये होगा. एक रिटेल इन्वेस्टर अधिकतम 13 लॉट या 260 शेयरों के लिए 1,93,440 रुपये में आवेदन कर सकता है.

OFS में होगी शेयरों की पेशकश

1,282.98 करोड़ रुपये का पब्लिक ऑफर अपने मौजूदा शेयर होल्डर और प्रमोटरों द्वारा 17,244,328 शेयरों का प्योर ऑफर फॉर सेल (OFS) है.

क्लाइंट एबेने, CVCIGP II एम्प्लॉई एबेने सहित मौजूदा इन्वेस्टर्स और एस शेखर वासन, उन्नी राजगोपाल के, एफआर सिंघवी और डी देवराज सहित प्रमोटर OFS में शेयरों की पेशकश करेंगे.

कुल ऑफर का 50% क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशनल बायर के लिए आरक्षित है, जबकि 35% रिटेल इन्वेस्टर्स के लिए और बाकी 15% नॉन- इंस्टीट्यूशनल बायर के लिए आरक्षित है.

ग्रे मार्केट

IPO से पहले, Sansera Engineering के शेयर 814 रुपये प्रति शेयर के भाव पर चल रहे थे.

Sansera कॉम्प्लेक्स और क्रिटिकल प्रेसीजन इंजीनियर कंपोनेंट को लीड करने वाला इंटीग्रेटेड मैन्युफैक्चरर है. कंपनी मुख्य रूप से ऑटोमोटिव सेगमेंट पर फोकस कर रही है, जिससे 88.45% रेवेन्यू मिलता है.

अनलिस्टेड एरिना के अभय दोशी ने कहा, “क्लाइंट और प्रोडक्ट पोर्टफोलियो दोनों ही केंद्रित दिख रहे हैं क्योंकि लगभग 59% रेवेन्यू टॉप 5 क्लाइंट से आता है. ऑपरेशनल फ्रंट पर, ग्रोथ मॉडरेट लग रही है.

ऑफर के अपर बैंड में, इश्यू की प्राइस 35.42x PE है जो अपने साथियों की तुलना में फिर से मॉडरेट लगती है. यह देखना दिलचस्प होगा कि कंपनी आगे EV रेवोल्युशन को कैसे अपनाती है”

ब्रोकरेज व्यू

ज्यादातर ब्रोकरेज ने इस इश्यू पर सब्सक्राइब रेटिंग दी है क्योंकि कंपनी के पास एक मजबूत प्रोडक्ट पोर्टफोलियो, एडवांस मैन्युफैक्चरिंग कैपेबिलिटी और मजबूत ट्रैक रिकॉर्ड है.

BP इक्विटीज | रेटिंग: सब्सक्राइब करें

Sansera Engineering CY 2020 के लिए लाइट व्हीकल सेगमेंट और कमर्शियल व्हीकल सेगमेंट में कनेक्टिंग रॉड के टॉप 10 ग्लोबल सप्लायर में से एक है.

कंपनी के सम्मानित भारतीय और ग्लोबल OEM के साथ मजबूत संबंध हैं. उनके पास सेग्मेंट, प्रोडक्ट, कस्टमर और ज्योग्राफी का एक अच्छा डायवर्सीफाइड पोर्टफोलियो है.

वैल्यूएशन फ्रंट पर, इस इश्यू की कीमत FY21 की अर्निंग, डायलूटेड इक्विटी शेयर्स और अपर प्राइस बैंड के आधार पर 36.2x की P/E है, जो कि इसके लिस्टेड इंडस्ट्री पियर (यानी, एंड्यूरेंस टेक्नोलॉजीज-43.3x, मिंडा इंडस्ट्रीज-91.6x, सुंदरम फास्टनर्स-50.4x, सुप्रजीत इंजीनियरिंग-30.7x और मदरसन सुमी-64.1x) की तुलना में सही कीमत है.

चॉइस ब्रोकिंग | रेटिंग: सब्सक्राइब करें

Sansera Engineering के बिजनेस ने H1FY21 में कोविड के बावजूद अच्छी रिकवरी देखी है. रेवेन्यू H2FY21 (2021 की दूसरी छमाही) में 37% YoY बढ़कर 910 करोड़ हो गया.

मार्जिन ट्रेंड भी सही स्तर पर बना रहा. कंपनी ने EBIDTA मार्जिन को 17.6% और NPM (नेट प्रॉफिट मार्जिन) को 7.1% FY21 में रिपोर्ट किया जो उसके साथियों की तुलना में ज्यादा था. FY21 में RoE (रिटर्न ऑन इक्विटी) 12.5% था जो रेवेन्यू ग्रोथ के एक्सपेंशन के साथ बेहतर होने की उम्मीद है.

मारवाड़ी शेयर्स एंड फाइनेंस | रेटिंग: सब्सक्राइब करें

इश्यू के बाद के आधार पर 21.02 रुपये के FY21 के एडजस्टेड EPS को ध्यान में रखते हुए, कंपनी 35.40 के P/E पर 3,822.5 करोड़ रुपये के मार्केट कैप के साथ लिस्टेड होने जा रही है, जबकि एंड्यूरेंस टेक्नोलॉजीज और मिंडा इंडस्ट्रीज क्रमश: 33.56 और 56.63 के P/E पर ट्रेड कर रहे हैं.

कंपनी प्रेसिजन इंजीनियर कंपोनेंट की लीडिंग स्पलायर है जो ऑटोमोटिव और नॉन-ऑटोमोटिव सेक्टर में मार्केट शेयर हासिल कर रही है और अपने साथियों की तुलना में रिजनेबल वैल्यूएशन पर उपलब्ध है.

दिलीप दावड़ा – इंडिपेंडेंट एक्सपर्ट | रेटिंग: अप्लाई करें

इसकी प्राइस रिजनेबल दिखाई दे रही है.1400 करोड़ रुपये के IPO का ओरिजनल प्लान था. 127 रुपये के NAV (नेट एसेट वैल्यू) के साथ एक ही साइज के फ्लोट के साथ अब 166 रुपये से अधिक के NAV के साथ 1,283 करोड़ रुपये के IPO में बदल दिया गया है.

इस तरह, कंपनी ने एक निवेशक-अनुकूल कदम उठाया है. निवेशक मध्यम से लंबी अवधि के लिए निवेश पर विचार कर सकते हैं.

ICICI डायरेक्ट | रेटिंग: अनरेटेड

Sansera Engineering लाइट व्हीकल के लिए कनेक्टिंग रॉड्स के टॉप 10 ग्लोबल सप्लायर्स में से एक है (CY20 में ग्लोबल मार्केट हिस्सेदारी 2.3%, CY15 में 0.9% से ऊपर) और CV (CY20 में ग्लोबल मार्केट हिस्सेदारी 3% बनाम CY15 में 0.9%).

भारत में, यह 2-W OEM को कनेक्टिंग रॉड्स, रॉकर आर्म्स और गियर शिफ्टर फोर्क्स का सबसे बड़ा सप्लायर है और PV OEM को कनेक्टिंग रॉड्स और रॉकर आर्म्स का सबसे बड़ा सप्लायर है.

कंपनी का मानना है कि OEM के तेजी से आउटसोर्सिंग के चलन से न केवल फॉर्ज्ड प्रेसिजन कंपोनेंट को बल्कि इन कंपोनेंट के सारे फोर्जिंग और मशीनिंग ऑपरेशन के साथ-साथ उनके सप्लायर को कंसोलिडेट करने से बेनिफिट होगा.

कंपनी ने FY21 में 10-12% के रिटर्न रेशियो के साथ 17.6% का EBITDA मार्जिन देखा. बैलेंस शीट फ्रंट पर, FY21 तक, डेट टू इक्विटी 0.6x पर है.

वैल्यूएशन के लिहाज से, इसकी कीमत FY21 EPS (21 रुपये/शेयर) पर ~ 35x P/E है, जो प्राइस बैंड के अपर एंड पर 744 रुपये है.

(डिस्कलेमर: ये रिकमेन्डेशन रिसर्च और ब्रोकरेज फर्म द्वारा दी गई हैं. मनी 9 और उसका मैनेजमेंट उनकी निवेश सलाह के लिए कोई जिम्मेदारी नहीं लेते हैं. कृपया निवेश करने से पहले अपने निवेश सलाहकार से परामर्श लें.)

हमें फॉलो करें

(मार्केट अपडेट और जाने अमीर कैसे बने सिर्फ आपके Money9 हिंदी पर)

लेटेस्ट वीडियो

Money9 विशेष