कोरोना काल में कैश नहीं UPI से करो पेमेंट, इस अकाउंट के ये हैं कई फायदे

ये मोबाइल से ओपरेट होता है और इंटरबैंक ट्रान्सफर सिस्टम है यानी एक बैंक से दूसरे बैंक में तुरंत पैसा ट्रांसफर हो जाता है.

कोरोना काल में कैश नहीं UPI से करो पेमेंट, इस अकाउंट के ये हैं कई फायदे
यूपीआई ऐप में लॉगइन करने और दोबारा पासवर्ड रिकवर करने के लिए ईमेल की जरूरत होगी.

कोरोना काल में लोग कैश का इस्तेमाल ना करके ऑनलाइन ट्रांसेक्शन (Online Transactions) करना ज्यादा आसान मानते है. लोगों के बीच डिजिटल ट्रांजेक्शन को बढ़ावा देने और फंड ट्रांसफर को तेज बनाने के लिए नेशनल पेमेंट कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया ने 2016 में यूपीआई ( Unified Payments Interface) लॉन्च किया था. ये मोबाइल से ओपरेट होता है और इंटरबैंक ट्रान्सफर सिस्टम है यानी एक बैंक से दूसरे बैंक में तुरंत पैसा ट्रांसफर हो जाता है.

युपीआइ के तहत BHIM ऐप, जो एक सरकारी ऐप है उससे डेइली ट्रांजेक्शन लिमिट 40,000 रुपये और पर ट्रांजेक्शन लिमिट 20,000 रुपये हैं. एक दिन में आप 10 ट्रांजेक्शन कर सकते हैं. लेकिन मर्चंट ट्रांजेक्शन की कोइ लिमिट नहीं हैं. बात करें प्राइवेट एप की तो इसमें लिमिट 1 लाख रुपये और प्रति ट्रांजेक्शन लिमिट भी 1 लाख रुपये हैं.

क्या है फायदे

– इसमें एक एकाउंट से दूसरे एकाउंट में पैसा ट्रांसफर होने की वजह से आपको ब्याज का कोइ नुकसान यानी की इंटरेस्ट लोस नहीं होता है. दूसरी और किसी वॉलेट में जैसे पेटीएम, एमेजोन पे, ओला मनी इत्यादी में आपने पैसे डाल लिए तो उस पर आपको कोइ इंटरेस्ट नहीं मिलेगा.

– आप 24 घंटे पेमेंट कर सकते हैं. जैसा आइएमपीएस में होता है. अगर आप ओनलाइन बैंकिंग करते हैं तो आपको पता ही होगा की उसमें आपको पहले बेनेफिसियरी को एड करना पडता है. उसमें थोडा टाइम लगता है. किसी बैंक में 30 मिनट तो किसी बैंक में चार घंटे या उससे भी ज्यादा समय लग जाता है. बेनिफिसियरी एड हो जाने के बाद भी अगर आप NEFT से पैसे ट्रांसफर कर रहे हो तो उसमें पैसा ट्रांसफर होने में टाइम लगता है. लेकिन युपीआइ में आप डिजिटल वॉलेट की तरह 2 या 3 सेंकड में पैसा ट्रांसफर कर सकते हैं.

– युपीआइ में आपको पेमेंट का मल्टीमोड सिस्टम मिलता है. अगर आपका मोबाइल नंबर बैंक से लिंकड है तो उससे पेमेंट कर सकते हैं. किसी का आधारकार्ड लिंक है तो उससे भी पैसा ट्रांसफर कर सकते हैं. इसके अलावा आइएफएससी, युपीआइ आइडी, क्यूआर कोड से भी पेमेंट कर सकते है.

– आप हर तहर की पेमेंट कर सकते हैं. जैसे की पीयर टु पीयर पेमेंट यानी कीसी रिश्तेदार या मित्र को पेमेंट कर सकते हैं. इसके अलावा अलग अलग बिल्स जैसे की इलेक्ट्रीक, टेलीफोन, गेस, पानी का बिल पे कर सकते हैं. अगर आप कहीं शोपिंग करने गए हैं या होटल में खाना खाने तो उसका पेमेंट कर सकते हैं. इसके अलावा ओनलाइन शोपिंग और किसी चीज की ओटो पेमेंट भी कर सकते हैं.

– युपीआइ से पेमेंट करने पर कोइ चार्ज नहीं लगता है जबकी नेट बैंकिंग या वोलेट से पेमेंट करने पर चार्ज लगता है. उदाहरण के तौर पर अगर आप इ-वॉलेट से इ वॉलेट पैसा ट्रांसफर करते हैं तो उस पर कोइ चार्ज नहीं लगता लेकिन इ वॉलेट से बैंक में पैसा ट्रांसफर करने पर ट्रांजेक्शन चार्ज लगता है.

पर्सनल फाइनेंस पर ताजा अपडेट के लिए करें।