इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन को तिमाही के दौरान 100 प्रतिशत रिफाइनरी चलने की उम्मीद

IOC के चेयरमैन एम एम वैद्य ने कहा कि पेट्रोल और LPG की मांग पहले ही कोविड से पहले के स्तर से अधिक है और डीजल की खपत सामान्य स्थिति में वापस आ रही है.

इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन को तिमाही के दौरान 100 प्रतिशत रिफाइनरी चलने की उम्मीद

हमारे देश में ईंधन की मांग तेजी से बढ़ रही है. ऐसे में  देश की सबसे बड़ी तेल विपणन कंपनी इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (IOC) को उम्मीद है कि ईंधन की मांग में तेजी लौटने से एक तिमाही के भीतर रिफाइनरी 100 फीसदी क्षमता के साथ चलने लगेंगी. IOC के चेयरमैन एम एम वैद्य ने सेरावीक द्वारा आयोजित इंडिया एनर्जी फोरम में कहा कि पेट्रोल और रसोई गैस (एलपीजी) की मांग पहले ही कोविड से पहले के स्तर से अधिक है और डीजल की खपत सामान्य स्थिति में वापस आ रही है. IOC की रिफाइनरियां सितंबर में 82 फीसदी क्षमता से संचालित हुईं और इस महीने 90 फीसदी से ऊपर हैं. उन्होंने कहा कि एक विनाशकारी महामारी के बाद भारत में आर्थिक गतिविधियों के पुनरुद्धार के साथ ऊर्जा की मांग फिर से बढ़ रही है.

आर्थिक गतिविधियों में आई है तेजी

पिछले साल मार्च के आखिर में कोरोना महामारी के कारण लगने वाले देशव्यापी लॉकडाउन के कारण भारत की ऊर्जा मांग घटकर आधी हो गई थी, लेकिन सरकार की ओर से लगाए गए प्रतिबंधों में छूट मिलने के साथ ही आर्थिक गतिविधियों में भी काफी तेजी आई है. वैद्य ने कहा कि भारत में ऊर्जा की मजबूत मांग है और भविष्य में ज्‍यादा बढ़ने वाली है.

हमें फॉलो करें

(मार्केट अपडेट और जाने अमीर कैसे बने सिर्फ आपके Money9 हिंदी पर)

लेटेस्ट वीडियो

Money9 विशेष