इलेक्ट्रिक व्हीकल टेंडर के लिए 21 कंपनियों ने लगाई बोली

EV tenders: कन्वर्जेंस एनर्जी सर्विसेज लिमिटेड के टेंडर में 21 कंपनियों की प्रस्तावित खरीद योजना के सात गुना बोलियां देखी गईं.

इलेक्ट्रिक व्हीकल टेंडर के लिए 21 कंपनियों ने लगाई बोली
image: Pixabay, कन्वर्जेंस एनर्जी सर्विसेज लिमिटेड बोलियों का तकनीकी मूल्यांकन कर रहा है और बोलियां इसी सप्ताह खोले जाने की उम्मीद है.

EV tenders: सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी कन्वर्जेंस एनर्जी सर्विसेज लिमिटेड (Convergence Energy Services Ltd – CESL) के ईवी (electric vehicle- EV) टेंडर के लिए 21 कंपनियों ने बोलियां लगाई गई है. इस मामले से जुड़े दो लोगों ने ईटी से कहा, पियाजियो इंडिया (Piaggio india), महिंद्रा इलेक्ट्रिक मोबिलिटी और काइनेटिक ग्रीन एनर्जी एंड पावर सॉल्यूशंस उन कंपनियों में शामिल हैं, जिन्होंने 3,000 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत वाले 1,00,000 वाहन टेंडर के हिस्से के रूप में इलेक्ट्रिक थ्री-व्हीलर्स की आपूर्ति के लिए बोली लगाई है.

नाम न छापने की शर्त पर लोगों ने कहा कि राज्य द्वारा संचालित कन्वर्जेंस एनर्जी सर्विसेज लिमिटेड (सीईएसएल) के टेंडर में 21 कंपनियों की प्रस्तावित खरीद योजना के सात गुना बोलियां देखी गईं, जिनमें आठ छोटे और मध्यम उद्यम और स्टार्टअप शामिल हैं.

कन्वर्जेंस एनर्जी सर्विसेज लिमिटेड बोलियों का तकनीकी मूल्यांकन कर रहा है और बोलियां इसी सप्ताह खोले जाने की उम्मीद है.

सीईएसएल के प्रबंध निदेशक ने टिप्पणी से किया इंकार –

कन्वर्जेंस एनर्जी सर्विसेज लिमिटेड के प्रबंध निदेशक (Managing director) और मुख्य कार्यकारी (chief executive) महुआ आचार्य ने मामले में टिप्पणी करने से इनकार कर दिया है.

कंपनी की योजना है, इनमें से लगभग आधे इलेक्ट्रिक वाहनों को लीज (lease) पर देना और बाकी को अपने डिजिटल प्लेटफॉर्म के जरिए बेचना.

प्रस्तावों के तहत निर्माताओं को कचरा निपटान, माल वाहक, खाद्य और वैक्सीन परिवहन और यात्री ऑटो के लिए इलेक्ट्रिक तिपहिया वाहनों को तैयार करने के लिए आमंत्रित किया गया है.

महिन्द्रा ने चुनिंदा श्रेणियों में टेंडर में भाग लिया –

काइनेटिक ग्रीन के संस्थापक (founded by) और मुख्य कार्यकारी अधिकारी (chief executive officer) सुलज्जा फिरोदिया मोटवानी ने कहा ईटी से कहा, “हम उक्त टेंडर के तहत आदेशों को अंतिम रूप देने की उम्मीद कर रहे हैं और हमारी मजबूत स्थानीय आपूर्ति श्रृंखला, विनिर्माण क्षमता और अनुभव को देखते हुए सीईएसएल की आवश्यकता के अनुसार उन्हें आपूर्ति करने के लिए आश्वस्त हैं.

 महिंद्रा इलेक्ट्रिक मोबिलिटी कंपनी के प्रवक्ता ने कहा, हमारी कंपनी ने चुनिंदा श्रेणियों में इलेक्ट्रिक थ्री-व्हीलर्स टेंडर में भाग लिया है.

हम लीजिंग व्यवसाय विकसित करने की उम्मीद करते हैं : आचार्य

सीईएसएल के आचार्य ने 6 अगस्त के साक्षात्कार में कहा था, हम एक महत्वपूर्ण लीजिंग व्यवसाय विकसित करने की उम्मीद करते हैं और पहले से ही निवेशकों के संपर्क में हैं.

” सीईएसएल का लक्ष्य पूरे भारत में 2,00,000 दो-पहिया इलेक्ट्रिक वाहन (ईवी) और 3,00,000 तीन-पहिया ईवी हैं.

 सीईएसएल ने पहले के एक बयान में कहा था, इस टेंडर के एक महत्वपूर्ण मांग में उन वाहनों की मांग भी शामिल है जिनका उपयोग रोजगार और टीकों की डिलीवरी के लिए किया जाएगा.”

हमें फॉलो करें

(मार्केट अपडेट और जाने अमीर कैसे बने सिर्फ आपके Money9 हिंदी पर)

लेटेस्ट वीडियो

Money9 विशेष