फेस्टिव डिमांड से कंज्यूमर गुड्स की बिक्री में आई तेजी

देशभर में 7.5 मिलियन रिटेल स्टोर को ट्रैक करने वाले बिजोम के अनुसार, सितंबर में किराने के सामान और आवश्यक वस्तुओं की बिक्री में 1.1% की वृद्धि हुई है.

  • Money9 Hindi
  • Publish Date - October 1, 2021 / 11:52 AM IST
फेस्टिव डिमांड से कंज्यूमर गुड्स की बिक्री में आई तेजी
सितंबर में दालों और खाद्य तेलों से लेकर रेफ्रिजरेटर और स्मार्टफोन तक कंज्यूमर प्रोडक्ट की बिक्री में सुधार हुआ है.

अगस्त में गिरावट दर्ज करने के बाद, सितंबर में दालों और खाद्य तेलों (pulses and edible oils) से लेकर रेफ्रिजरेटर और स्मार्टफोन तक कंज्यूमर प्रोडक्ट की बिक्री में सुधार हुआ है. फेस्टिव सीजन की मांग में उछाल ने कॉर्पोरेट उम्मीदों को बढ़ा दिया है. फेस्टिव सीजन को भारत में पीक सेल्स पीरियड माना जाता है. बाजार पर नजर रखने वालों और उद्योग के अनुमानों के नवीनतम आंकड़ों के आधार पर एक मीडिया रिपोर्ट जारी की गई है

देशभर में 7.5 मिलियन रिटेल स्टोर को ट्रैक करने वाले बिजोम (Bizom) के अनुसार, सितंबर में किराने के सामान और आवश्यक वस्तुओं की बिक्री में 1.1% की वृद्धि हुई, जिसने पिछले महीने के ट्रेंड को उलट दिया. यह पिछले महीने 14.5% गिर गई थी. मजबूत त्यौहारी मांग की उम्मीद में किराना स्टोर चलाने वालों ने अधिक स्टेपल और खाद्य तेलों का स्टॉक किया. इसलिए महीने-दर-महीने आधार पर वृद्धि को मुख्य रूप से कमोडिटी ने ड्राइव किया.

साल-दर-साल आधार पर भी ग्रोथ

यहां तक कि साल-दर-साल (y-o-y) आधार पर भी सितंबर में ग्रोथ हुई है. बिजोम के अनुसार, FMCG की बिक्री में साल-दर-साल 29.7% की वृद्धि हुई. अप्लायंसेज के सेल्स वॉल्यूम में भी 2-3% की वृद्धि देखी गई. स्मार्टफोन के लिए वॉल्यूम ग्रोथ 4-5% है. स्मार्टफोन रिटेल सेलर ने कहा कि अगस्त की तुलना में सितंबर बेहतर था. इसे एप्पल के आईफोन 13 सीरीज और सैमसंग के गैलेक्सी फोल्ड और फ्लिप हैंडसेट जैसे प्रीमियम मॉडल समेत नए लॉन्च ने लीड किया.

क्या कहा अडानी विल्मर के CEO ने

अडानी विल्मर के चीफ एग्जीक्यूटिव अंगशु मलिक ने कहा कि फास्ट मूविंग कंज्यूमर गुड्स (fast-moving consumer goods) में मांग का नेतृत्व होटल, रेस्तरां और कैटरर्स के साथ-साथ कंज्यूमर ने किया. सितंबर एक ऐसा समय है जब वे दो महीने तक चलने वाले त्योहारी सीजन (festive season) के लिए ओवरस्टॉक करते हैं. हालांकि पर्सनल केयर और पैकेज्ड फूड प्रोडक्ट (packaged foods) में ग्रोथ क्रमशः 7% और 5% गिर गई. एक्सपर्ट्स ने कहा कि त्योहारी सीजन के दौरान सोशल इंटरेक्शन में बढ़ोतरी से इन सेगमेंट की बिक्री को बढ़ावा मिल सकता है.

पॉजिटिव इंडिकेटर्स

कंपनियों के सीईओ (CEOs) ने कहा कि उपभोक्ता अक्टूबर में त्योहारी सीजन की बड़ी बिक्री का इंतजार कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि एमेजॉन और फ्लिपकार्ट इस वीकेंड पर अपनी सेल शुरू करेंगे. उन्होंने कहा, अगले दो महीनों में अच्छी बिक्री के लिए सभी संकेत सकारात्मक हैं.

गोदरेज अप्लायंसेज के बिजनेस हेड कमल नंदी ने कहा, ‘कंज्यूमर सेंटीमेंट, मैक्रोइकोनॉमिक इंडिकेटर्स अच्छे हैं. उच्च टीकाकरण, कम संक्रमण दर के कारण कोविड इंडिकेटर भी अच्छे हैं. इसके अलावा तीसरी लहर की आशंका कम है. इसलिए, सितंबर में रिकवरी त्योहारी सीजन के लिए अच्छा संकेत है.

भारत के सबसे बड़े व्हाइट गुड्स निर्माता एलजी इलेक्ट्रॉनिक्स के कॉरपोरेट प्लानिंग के उपाध्यक्ष दीपक बंसल ने कहा, वैल्यू में ग्रोथ सितंबर में वॉल्यूम से अधिक थी. उन्होंने कहा, ‘साल-दर-साल आधार पर, हमने अधिक प्रीमियम प्रोडक्ट और कीमतों में बढ़ोतरी के कारण बिक्री में 10% की ग्रोथ की.’

दक्षिण भारत की सबसे बड़ी सेल फोन रिटेल चेन संगीता मोबाइल्स के डायरेक्टर चंदू रेड्डी ने कहा कि सितंबर में स्मार्टफोन की वॉल्यूम के हिसाब से बिक्री अगस्त के मुकाबले 3-5% और वैल्यू के हिसाब से 11% बढ़ी. उन्होंने कहा, ‘हमें अगले दो महीनों में अच्छी ग्रोथ की उम्मीद है.’

हमें फॉलो करें

(मार्केट अपडेट और जाने अमीर कैसे बने सिर्फ आपके Money9 हिंदी पर)

लेटेस्ट वीडियो

Money9 विशेष