महत्वाकांक्षी खर्च: अच्छा या बुरा? यहां मिलेगी पूरी जानकारी

Ambitious Spending: इससे आप 500 रुपए बचा लेंगे और इस बचत को अपने महत्वाकांक्षी खर्च के फंड में डाल दें. इसमें आपको कोई कटौती नहीं करनी पड़ी.

  • Sneha Joshi
  • Publish Date - August 16, 2021 / 12:52 PM IST
महत्वाकांक्षी खर्च: अच्छा या बुरा? यहां मिलेगी पूरी जानकारी
वित्तीय लक्ष्यों के लिए बचत को पूरा करने के बाद, अपने महत्वाकांक्षी खर्च के लिए फंड करें. इसके लिए थोड़ी बचत से शुरुआत करें

“अपने बच्चों में बचपन से बचत की आदत डालें. अपने बच्चों को सपने देखने दें और महत्वाकांक्षा पालने दें. उनमें पैसों की समझ विकसित करें.” हमें ये बातें बताई जाती हैं. और इसी के आधार पर हम आज जो हैं, वह बनते हैं. महत्वाकांक्षा को यहां सकारात्मक तरीके से लिया गया है, किंतु बात महत्वाकांक्षी खर्च या लक्ष्य की होती है तो इसे नकारात्मक तरीके से लिया जाता है. और यहीं से भ्रम पैदा होता है. असल में महत्वाकांक्षी खर्च (Ambitious Spending) उस निवेश को कहते हैं जब हम अपनी भविष्य की चाहत और जरूरत को लेकर किसी उत्पाद में निवेश करते हैं. यहां, महत्वाकांक्षी खर्च और उतावले खर्च के बीच अंतर करना जरूरी है.

पहले तरह के खर्च में उसका महत्व जुड़ा हुआ होता है. जैसे, यदि अभी हम विदेशी भाषा पर खर्च करें तो यह महंगा पड़ता है किंतु भविष्य यह लाभदायक साबित होता है. जबकि दूसरे खर्च में बिना किसी योजना के खर्च किया जाता है और उसका कोई फायदा नहीं होता. महत्वाकांक्षी खर्च विश्वसनीय होता है. इसके साथ कुछ उद्देश्य जुड़े होते हैं. महात्वाकांक्षी खर्च के लिए बचत शुरू करने से पहले इन तीन बातों का ख्याल रखना चाहिए.

छोटी बचत से शुरू करें

अपनी जिम्मेदारियों और वित्तीय लक्ष्यों के लिए बचत को पूरा करने के बाद, अपने महत्वाकांक्षी खर्च के लिए फंड करें. इसके लिए थोड़ी बचत से शुरुआत करें.

इसे ऐसे कर सकते हैं. मान लो किसी स्थान पर 100 कारों के लिए मुफ्त पार्किंग सुविधा दी जाती है और इसके बाद प्रति कार 50 रुपए लिया जाता है. तो 10 दिन जल्दी पहुंचने की कोशिश करें इससे आप 500 रुपए बचा लेंगे और इस बचत को अपने महत्वाकांक्षी खर्च के फंड में डाल दें. इसमें आपको मौजूदा खर्च में कोई कटौती नहीं करनी पड़ी.

कम लागत के विकल्प पर ध्यान दें

अपने महत्वाकांक्षी खरीद को पूरा करने के लिए कम लागत वाले विकल्पों को चुनें. जैसे, बिना लागत वाले ईएमआई, या डिस्काउंट कूपन का इस्तेमाल करना वगैरह. बेहतर विकल्प पाने के लिए बेस्ट डील पर नजर रखें. माना कि आप अपनी फोटोग्राफी शौक को पूरा करने के लिए एक कैमरा खरीदना चाहते हैं तो ऐसे विकल्प देखें, जहां कम से कम लागत में यह कैमरा आप खरीद पाएं.

निवेश को सूचीबद्ध करें

निवेश का सबसे बेहतर तरीका एसआईपी के जरिए बचत करना है. जब आप जरूरत के सभी खर्च पूरा कर लेते हैं तो उसके बाद कम से कम 500 रुपए महीने एसआईपी के जरिए बचाएं. यदि इसके बाद भी कुछ बचता है उसे चतुराई के साथ निवेश करें. निवेश के कई विकल्प हो सकते हैं.

यदि आप किसी वित्तीय लक्ष्य को 1 साल के भीतर प्राप्त करना चाहते हैं तो आप लिक्विड फंड पर निवेश करें, ताकि आपको कम जोखिम के साथ समय पर पैसा प्राप्त हो सके.

फंड के प्रकार जोखिम तरलता
छोटी से मध्यम अवधि के बॉन्ड कम से मध्यम ओपन-इंडेड: सालभर बाद भुनाई जा सकती है

क्लोज-इंडेड: लॉक-इन अवधि के बाद भुनाई जा सकती है

बहु-संपत्ति फंड मध्यम साल भर भुनाई जा सकती है
शेयर आधारित फंड, इंडेक्स फंड, गोल्ड ETFs थोड़ा अधिक साल भर भुनाई जा सकती है
सेक्टर आधारित फंड, थीम आधारित फंड, और माइक्रोकैप फंड अधिक साल भर भुनाई जा सकती है

अपने लक्ष्यों की प्राथमिकता तय करना बहुत जरूरी है. वित्तीय योजना बनाने में अनुशासन का पालन करें. महत्वाकांक्षी लक्ष्य, तभी तक सकारात्मक है जब तक आप धैर्य बनाए रखते हैं और उतावलापन नहीं दिखाते.

(Sneha Joshi, Associate Fund Manager- Alternative Investments, Quantum AMC)

 

हमें फॉलो करें

(मार्केट अपडेट और जाने अमीर कैसे बने सिर्फ आपके Money9 हिंदी पर)

लेटेस्ट वीडियो

Money9 विशेष