पर्सनल फाइनेंस की वो 9 आदतें जिन्हें कोविड ने बदल दिया

प्रश्नोत्तर का उत्तर देने वाले 20% लोगों का कहना है कि उनके पास अपने व्यक्तिगत लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए एक वित्तीय रणनीति है.

  • Himali Patel
  • Publish Date - November 1, 2021 / 09:31 AM IST
पर्सनल फाइनेंस की वो 9 आदतें जिन्हें कोविड ने बदल दिया
कोरोना वायरस के रिकॉर्ड 3,057 नए मामले आए और पिछले 24 घंटों में दो मरीजों की मौत हुई. राज्य में 284 मरीज अस्पतालों में भर्ती हैं और इनमें से 39 मरीज आईसीयू में हैं

एक सर्वे के मुताबिक, कोविड -19 (Corona) लोगों के पर्सनल फाइनेंस से जुड़े व्यवहार को बदल रहा है। सर्वे में 80 फीसदी लोगों के लिए कोरोना काल आंख खोलने वाला रहा. उन्होंने अपने पर्सनल फाइनांस को व्यवस्थित किया और बेहतर वित्तीय स्थिति के लिए अपनी आर्थिक गतिविधियों में बदलाव लाया। स्क्रिपबॉक्स का ये सर्वे निवेशक के व्यवहार और दृष्टिकोण के अध्ययन के लिए किया गया.

स्क्रिपबॉक्स एक डिजिटल वेल्थ मैनेजमेंट एजेंसी है जिसने बचत और निवेश के महत्व के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए विश्व बचत दिवस (31 अक्टूबर) से पहले यह सर्वे किया। इससे निवेशक को पूरे जीवन लाभ मिलता रहता है.

सर्वे में हिस्सा लेने वाले एक तिहाई लोगों के मुताबिक कोरोना काल में लोगों की वित्तीय स्थिति और सलामती जीवन का सबसे तनावपूर्ण हिस्सा रही जो शारीरिक फिटनेस और रिश्तों से भी ज्यादा महत्वपूर्ण है.

पुरुष और महिलाएं दोनों ही बचत और निवेश के प्रति अपने दृष्टिकोण के बदलाव में महामारी के महत्व को स्वीकार करते हैं. सर्वे में हिस्सा लेने वाल करीब 28% महिलाओं ने कहा कि वे आज, महामारी से पहले की तुलना में ज्यादा स्मार्ट निवेशक हैं. 26% पुरुषों ने भी ऐसा ही महसूस किया.

 

9 प्रमुख निष्कर्ष

सर्वे में हिस्सा लेने वाले लोगों के व्यवहार में पर्सनल फाइनेंस को लेकर सकारात्मक बदलाव देखने को मिले.

अपने वित्तीय स्वास्थ्य को बेहतर करने के लिए, 51% ने पहले की तुलना में अधिक बचत करना शुरू कर दिया है. संपत्ति अर्जित करने के लिए 36% अधिक निवेश कर रहे हैं.

29% महिलाओं ने घर खर्च के लिए मिले पैसे को खर्च करने में कटौती की और अपनी बचत बढ़ाई है

20% का कहना है कि उनके पास अपने व्यक्तिगत लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए एक वित्तीय रणनीति है

15% का कहना है कि वे कहां निवेश करें ये जानने के लिए प्रोफेशनल की मदद ले रहे हैं

सर्वे में हिस्सा लेने वाले 53% प्रतिभागियों का कहना है कि वे अपने बचत के पैसे सेविंग अकाउंट में डालते हैं जबकि 41% का कहना है कि वे इसे फिक्स्ड डिपाजिट या रेकरिंग डिपाजिट में डालते हैं

37% के लिए म्यूच्यूअल फंड सबसे लोकप्रिय निवेश विकल्प रहा। इसके बाद इक्विटी (24%), सोना (24%), क्रिप्टोकरेंसी (14%), और घर खरीदना (14%) बेहतर लगा

मौजूदा आर्थिक माहौल में पुरुषों और महिलाओं दोनों के लिए एक आपातकालीन फण्ड तैयार करना उनके लिए सबसे महत्वपूर्ण वित्तीय लक्ष्य रहा

जहां 34% पुरुषों ने अपने अगले प्राथमिक वित्तीय लक्ष्य के रूप में स्वास्थ्य सेवा को चुना, वहीं 38% महिलाओं ने कहा कि वे इसके बजाय अपने बच्चों की शिक्षा के लिए बचत करना चाहेंगी

29% लोगों के लिए घर खरीदना सबसे ज़रूरी में से एक वित्तीय लक्ष्य रहा

स्क्रिपबॉक्स के संस्थापक और सीईओ अतुल सिंघल के मुताबिक, “स्क्रिपबॉक्स के संस्थापक और सीईओ अतुल सिंघल के मुताबिक, “लंबे समय के लक्ष्य को प्राप्त करने में सहायता करने वाली व्यक्तिगत फाइनेंशियल प्लानिंग जागरूक लोगों से संबंध स्थापत करने का एक अच्छा अवसर है. यह विशिष्ट प्रोडक्ट बेचने से बेहतर है. स्क्रिपबॉक्स तकनीक, वित्तीय प्रोफेशनल की सलाह और मार्गदर्शन को जोड़ कर निवेशक को ऐसे निर्णय लेने के काबिल बनाता है कि वो सबसे बेहतर वित्तीय विकल्प चुन सकें.“

हमें फॉलो करें

(मार्केट अपडेट और जाने अमीर कैसे बने सिर्फ आपके Money9 हिंदी पर)

लेटेस्ट वीडियो

Money9 विशेष