अच्‍छी कमाई के लिए इन इलेक्ट्रिक व्हीकल स्टॉक्स में कर सकते हैं निवेश

भारत के EV बाजार की व्यापक स्वीकृति और विस्तार के कारण, इलेक्ट्रिक वाहन शेयरों में निवेश करने का यह सबसे अच्छा समय माना जा रहा है.

  • Money9 Hindi
  • Publish Date - October 17, 2021 / 05:09 PM IST
अच्‍छी कमाई के लिए इन इलेक्ट्रिक व्हीकल स्टॉक्स में कर सकते हैं निवेश
रिपोर्टों के मुताबिक, केंद्रीय बैंक के नीति पर स्थिर रहने की उम्मीद है. हालांकि बाजार में गिरावट के बीच भी आप मुनाफा कमा सकते हैं

Best Electric Vehicle Stocks: सरकार ने 2030 तक 100% विद्युतीकरण प्राप्त करने का लक्ष्य निर्धारित किया है. इसके शुरुआती चरणों को देखते हुए, यह एक बड़ा लक्ष्य है. सभी तिपहिया वाहन 2023 तक बैटरी से चलने वाले होंगे, और 2025 तक अधिकांश दोपहिया वाहन बैटरी से चलने वाले होंगे. भारत सरकार के ग्रीन मोबिलिटी पर बढ़ते ध्यान के साथ, इलेक्ट्रिक वाहन उद्योग के विकास की अपेक्षा करना उचित है. भारत के EV बाजार की व्यापक स्वीकृति और विस्तार के कारण, इलेक्ट्रिक वाहन शेयरों में निवेश करने का यह सबसे अच्छा समय माना जा रहा है.

टाटा मोटर्स

CMP*: 382.95 रुपये | 52-week high: 398.00 रुपये

Tata Motors की Tigor EV और Nexon EV अब भारत में उद्योग के अग्रणी EV मॉडल हैं। 2020 में, उसने 2,600 इलेक्ट्रिक वाहन बेचे, जिसके परिणामस्वरूप 63% की बाजार हिस्सेदारी हुई. पिछले तीन वर्षों से, कंपनी ने निवेश पर नकारात्मक रिटर्न (ROI) दर्ज किया है. तीन साल की अवधि में, स्टॉक ने 45.32 प्रतिशत रिटर्न दिया, जबकि निफ्टी ऑटो ने निवेशकों को 9.7 प्रतिशत रिटर्न प्रदान किया. पिछली तिमाही में प्रमोटर्स होल्डिंग्स 5.36 फीसदी बढ़ी है जो एक अच्छा संकेत है.

अशोक लीलैंड

CMP*: 134.90 रुपये | 52-week high: 143.25 रुपये

हिंदुजा समूह की प्रमुख कंपनी, अशोक लीलैंड ने 2016 में भारत की पहली इलेक्ट्रिक बस और यूरो 6 संगत वाहन पेश किए. वे वर्तमान में अपनी EV रेंज के विस्तार पर काम कर रही हैं. अशोक लीलैंड के स्टॉक ने पिछले 16 वर्षों में केवल 3.09 प्रतिशत ट्रेडिंग सत्रों में 5% से अधिक की इंट्रा-डे गिरावट देखी हैं. तीन साल की अवधि में, निफ्टी ऑटो इंडेक्स के 9.7 प्रतिशत की तुलना में स्टॉक ने 8.82 प्रतिशत का रिटर्न दिया हैं.

ग्रीव्स कॉटन (GCL)

CMP*: 138.60 रुपये | 52-week high: 184.25 रुपये

ग्रीव्स कॉटन इंजन, इंजन एप्लिकेशन और अन्य चीजों के अलावा पावर टिलर, इंजन स्पेयर, इलेक्ट्रिक वाहन और इंफ्रास्ट्रक्चर उपकरण बनाती है. 3W डीजल इंजन सेगमेंट में, GCL की बाजार हिस्सेदारी 60%-65% है. GCL 30 से अधिक भारतीय मूल उपकरण निर्माताओं (OEMs) को इंजन प्रदान करती है. ग्रीव्स कॉटन ने मल्टी-ब्रांड EV रिटेल स्पेस में कदम रखने की घोषणा की, जिससे उसे टर्नऑवर और मुनाफा दोनों में महत्वपूर्ण योगदान की उम्मीद है. कंपनी का कर्ज कम किया गया है. व्यवसाय व्यावहारिक रूप से ऋण मुक्त है.

टाटा पावर

CMP*: 176.90 रुपये | 52-week high: 184.80 रुपये

टाटा पावर का इरादा अपनी क्षमता एकाग्रता को थर्मल स्रोतों से दूर और स्वच्छ ऊर्जा स्रोतों की ओर स्थानांतरित करने का है. इसका उद्देश्य 2025 तक स्वच्छ और ग्रीन क्षमता का हिस्सा बढ़ाकर अपनी कुल क्षमता का 60%, 2030 तक 80% और थर्मल परियोजनाओं को चरणबद्ध रूप से समाप्त करके 2050 तक कार्बन तटस्थता प्राप्त करना है.

JBM ऑटो

CMP*: 531.35 रुपये | 52-week high: 559.20 रुपये

JBM ऑटो शीट मेटल कंपोनेंट्स, टूल्स, डाई और मोल्ड्स का निर्माण और बिक्री करती है. यह बस रखरखाव अनुबंधों के प्रबंधन के अलावा बसों के साथ-साथ उनके स्पेयर पार्ट्स और सहायक उपकरण भी बनाती है. कंपनी के राजस्व का 75% ऑटोमोबाइल कंपोनेंट्स डिवीजन से आता है. यह इस डिवीजन में ऑटो सिस्टम और उच्च स्तरीय असेंबली का उत्पादन करता है.

एक्साइड इंडस्ट्रीज

CMP*: 184.75 रुपये | 52-week high: 220.60 रुपये
एक्साइड इंडस्ट्रीज मुख्य रूप से स्टोरेज बैटरी और संबंधित उत्पादों के उत्पादन में शामिल है. पिछले 16 वर्षों में केवल 2.38 प्रतिशत ट्रेडिंग सत्रों में इसके शेयरों में 5% से अधिक का इंट्रा-डे लाभ हुआ है. निफ्टी मिडकैप 100 के 75.85 प्रतिशत की तुलना में तीन वर्षों में ये स्टॉक 31.96 प्रतिशत गिरा हैं. कंपनी का व्यवसाय व्यावहारिक रूप से ऋण मुक्त है. कंपनी 29.99% मजबूत डिविडेंड का भुगतान कर रही हैं.

मिंडा इंडस्ट्रीज

CMP*: 781.70 रुपये | 52-week high: 832.60 रुपये
मिंडा इंडस्ट्रीज ऑटोमोटिव कंपोनेंट्स उद्योग में एक प्रौद्योगिकी नेता है. कंपनी के मजबूत तिमाही नतीजे आने की उम्मीद है. पिछले दस वर्षों में कंपनी की औसत बिक्री वृद्धि 23.58% है जो एक स्वस्थ संकेत है. पिछले 16 वर्षों में केवल 3.63 प्रतिशत ट्रेडिंग सत्रों में 5% से अधिक का इंट्रा डे लाभ हुआ. निफ्टी स्मॉलकैप 100 के लिए 76.83 प्रतिशत की तुलना में स्टॉक ने तीन वर्षों में 6.34 प्रतिशत का रिटर्न दिया.

दूसरे लाभार्थी स्टॉक

अन्य EV संबंधित स्टॉक में हिमाद्री स्पेशलिटी केमिकल, हिंडाल्को इंडस्ट्रीज, हिंदुस्तान कॉपर और JBM ऑटो शामिल हैं. ये स्टॉक EV क्षमता का प्रतिनिधित्व करते हैं और प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष लाभार्थी हैं. कोई भी निवेश करने से पहले, अपने विशेषज्ञों से परामर्श करने में समझदारी है.

 

(CMP* यानी, शेयर की कीमत BSE पर 8 अक्टूबर, 2021 के मुताबिक हैं. यह लेख केवल सूचना के उद्देश्य से है. निवेशकों को ध्यान देना चाहिए कि शेयरों में निवेश करना जोखिम भरा है. पाठकों/निवेशकों को सलाह दी जाती है कि कोई भी निवेश करने से पहले विशेषज्ञों की सलाह लें.)

हमें फॉलो करें

(मार्केट अपडेट और जाने अमीर कैसे बने सिर्फ आपके Money9 हिंदी पर)

लेटेस्ट वीडियो

Money9 विशेष