17,300 के स्तर पर निफ्टी में स्ट्रॉन्ग सपोर्ट बनने की उम्मीद

निफ्टी का पिछला लो लेवल 17,300 रहा. इसके बाद डेली चार्ट में उछाल आने का अनुमान जताया जा रहा है.

  • Money9 Hindi
  • Publish Date - November 1, 2021 / 10:25 AM IST
17,300 के स्तर पर निफ्टी में स्ट्रॉन्ग सपोर्ट बनने की उम्मीद
अपसाइड की बात करें तो 18 हजार का आंकड़ा मार्केट में तेजी के लिए ट्रिगर लेवल हो सकता है. इस स्तर से एक स्थायी कदम नवंबर 2021 के दौरान बाजार को नई ऊंचाइयों पर ले जा सकता है

घरेलू बाजार (Stock Market) के लिए उतार-चढ़ाव से भरपूर अक्टूबर 2021 का पूरा महीना काफी शुभ साबित हुआ. वहीं, महीने के अंत में दोनों पक्षों में रस्साकशी चलती रही, लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला. हम ऐसा इस वजह से कह रहे हैं, क्योंकि सितंबर 2021 के दौरान निफ्टी ने 17,600 के स्तर पर महीने के कारोबार की समाप्ति की थी. इसके बाद हमने निफ्टी ने एकतरफा उछाल देखा, जिसके दम पर सूचकांक ने 18,604 का ऑलटाइम हाई का रिकॉर्ड बनाया. हालांकि, यह सब महीने के शुरुआती 15 दिन के दौरान हुआ.

इसके बाद बाजार में बिकवाली पूरी तरह हावी रही और महीने के अंत में निफ्टी 17,600 के स्तर के पास वापस पहुंच गया. वैसे देखा जाए तो अक्टूबर का पूरा महीना उतार-चढ़ाव से भरपूर रहा, लेकिन इसका कोई नतीजा नहीं निकला. निफ्टी इंडेक्स में मामूली बदलाव हुआ. इस दौरान हमने एफआईआईएस समेत फ्यूचर इंडेक्स के कई शेयरों में भारी बिकवाली देखी, लेकिन रोलओवर डाटा से सामने आया कि इनमें से अधिकतर की खरीदारी भी कर ली गई. ऐसे में नवंबर 2021 के महीने की शुरुआत एक फ्रेश नोट से होगी.

तकनीकी तौर पर देखा जाए तो यहां अलग-अलग टाइम स्केल के आधार पर कई ऑब्जर्वेशन हैं. मंथली चार्ट के हिसाब से शुरू करें तो हमने कैंडलिस्टिक पैटर्न देखे, जिनेसे करेंट लेवल पर पॉज लेने का संकेत मिले. वहीं, वीकली चार्ट में लगातार दो सप्ताह तक कैंडलिस्टिक चार्ट लाल निशान पर बरकरार रहा.

इससे संकेत मिलता है कि बाजार अब ऊपर की ओर चढ़ेगा. डेली चार्ट की बात करें तो हमने लगातार देखा कि निफ्टी ब्रॉडनिंग पैटर्न के हिसाब से आगे बढ़ा. हालांकि, कारोबार के दौरान इंडेक्स उस पैटर्न की अपर रेंज पर अटक गया और करेक्शन आने लगा. अब इंडेक्स निचले स्तर पर पहुंच चुका है, जिससे संकेत मिलता है कि आने वाले सप्ताह में 17,613 का निचला स्तर बेहद अहम होगा। इससे नीचे इंडेक्स को 17,300 के स्तर पर सपोर्ट मिल सकता है, जिसके बाद डेली चार्ट में उछाल के साथ राइजिंग ट्रेंड लाइन दिख सकती है.

यह वह जोन है, जहां भारी बिकवाली के बाद स्ट्रॉन्ग सपोर्ट बन सकता है. हम ट्रेडर्स को सलाह देते हैं कि वे इस रेंज पर क्वॉलिटी स्टॉक्स में निवेश करें, जिनके बुलिश होने की काफी संभावनाएं हैं. अपसाइड की बात करें तो 18 हजार का आंकड़ा मार्केट में तेजी के लिए ट्रिगर लेवल हो सकता है. इस स्तर से एक स्थायी कदम नवंबर 2021 के दौरान बाजार को नई ऊंचाइयों पर ले जा सकता है.

अंत में, अक्टूबर 2021 के दौरान हमने बैंक निफ्टी में भी भारी उतार-चढ़ाव देखा. निफ्टी बैंक ने न सिर्फ 40 हजार का स्तर पार किया, बल्कि 42 हजार के स्तर को भी पार कर दिया. कुल मिलाकर, सप्ताह के दौरान 10 फीसदी की उछाल और महीने के दूसरे सप्ताह में करेक्शन के बावजूद यह इंडेक्स पिछले महीने के मुकाबले 4 फीसदी बढ़त हासिल करने में कामयाब रहा.

अब इंडेक्स में रेंज ब्रेकआउट होता है तो 44 हजार से 46 हजार का लक्ष्य आ सकता है. हालांकि, इसमें कुछ महीने लगने का अनुमान है. अगले महीने में 38 हजार इंटरमीडिएट सपोर्ट हो सकता है. अगर यह सपोर्ट बनता है तो इंडेक्स एक बार फिर 42 हजार के स्तर पर पहुंच सकता है. दूसरी तरफ, 36 हजार के स्तर पर कारोबार कर रहे निफ्टी बैंक से 46 हजार के बड़े टारगेट की उम्मीद की जा रही है.

हमें फॉलो करें

(मार्केट अपडेट और जाने अमीर कैसे बने सिर्फ आपके Money9 हिंदी पर)

लेटेस्ट वीडियो

Money9 विशेष