मारुति में आ सकता है 89% उछाल, क्या आपको निवेश करना चाहिए?

Maruti Suzuki Share: मारवाड़ी शेयर्स एंड फाइनेंस ने 'बाय' रेटिंग के साथ इसका प्राइस टार्गेट 12,860 रुपये तय किया है. यानी, शेयर 89% उछल सकते हैं

मारुति में आ सकता है 89% उछाल, क्या आपको निवेश करना चाहिए?
मार्केट एक्सपर्ट्स का मानना है कि इसके शेयर 90 प्रतिशत तक उछाल मारने की क्षमता रखते हैं. अगले दो साल में इनकी कीमत 12,860 रुपये तक पहुंच सकती है

देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजुकी (Maruti Suzuki) कुछ समय से खबरों में बनी हुई है. सेमिकंडक्टर की किल्लत (semiconductor shortage) के चलते कंपनी का उत्पादन घटा है. इस कारण उसने इस साल में तसरी बार प्रॉडक्ट्स के दाम बढ़ाए हैं. इन सबके बीच एक्सपर्ट्स कंपनी के शेयरों (shares) को लेकर पॉजिटिव हैं.

मार्केट एक्सपर्ट्स का मानना है कि इसके शेयर 90 प्रतिशत तक उछाल मारने की क्षमता रखते हैं. अगले दो साल में इनकी कीमत 12,860 रुपये तक पहुंच सकती है.

मारवाड़ी शेयर्स एंड फाइनेंस के सौरभ जोशी के मुताबिक, मारुति का टोयोटा के साथ कोलैबरेशन उसे इंडस्ट्री के नए ट्रेंड्स के साथ कंधे से कंधा मिलाकर आगे बढ़ाएगा. कंपनी ने हाइब्रिड और इलेक्ट्रिक टेक्नॉलजी पर टोयोटा की पकड़ और उत्पादन में मारुति की महारत को साथ लाकर ‘मारुति सुजुकी सब्सक्राइब’ नाम का लीज प्रोग्राम शुरू किया है.

नए लॉन्च से मार्केट शेयर बढ़ने की उम्मीद

एक के बाद एक सफल प्रॉडक्ट्स मार्केट में उतार रही मारुति सुजुकी का मार्केट शेयर वित्त वर्ष 2012 के 38.5 प्रतिशत से बढ़ते हुए वित्त वर्ष 2021 में 38.5 फीसदी पहुंच गया. बाजार पर अपनी पकड़ और मजबूत करने के लिए कंपनी कई नए प्रॉडक्ट पेश करने की तैयारी में है. इनमें जिमनी, वैगन आर इलेक्ट्रिक, XL 5, स्विफ्ट हाइब्रिड, ग्रांड वितारा, सिलेरियो 2021 जैसी गाड़ियां शामिल हैं.

इसी के साथ कंपनी तमाम मॉडल्स के CNG वेरिएंट पेश करना जारी रखेगी. इसके BS-VI मॉडल की मांग ने मार्केट पोजिशिन को बहतर बनाया है.

सबसे बड़ा CNG पोर्टफोलियो

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों ने लोगों को CNG जैसे अन्य विकल्पों की ओर आकर्षित किया है. ये फ्यूल की तुलना में जेब पर हल्के पड़ रहे हैं. मारुति सुजुकी के पोर्टफोलियो में फिलहाल आठ ऐसे मॉडल हैं, जिन्हें CNG किट के साथ पेश किया जाता है. यह अन्य किसी भी कंपनी की तुलना में सबसे अधिक है.

GST में कटौती का मिलेगा फायदा

रिपोर्ट्स के मुताबिक, सरकार छोटी गाड़ियों पर लगने वाले 28 प्रतिशत GST में कटौती करने पर विचार कर रही है. इससे ओनरशिप की लागत घटेगी और मांग में बढ़ोतरी होगी. एंट्री-लेवल सेगमेंट की सबसे बड़ी कंपनी होने के नाते इस कदम से मारुति को सबसे अधिक फायदा मिलने की उम्मीद है.

कितनी बढ़ सकती है कीमत

जोशी का अनुमान है कि वित्त वर्ष 2021 से 2025 के बीच मारुति सुजुकी का रेवेन्यू 18 प्रतिशत CAGR के साथ बढ़ सकता है. इस दौरान कंपनी के ओपनिंग मार्जिन में 440 बेसिस पॉइंट का सुधार होने की भी उम्मीद है. मौजूदा मार्केट प्राइस पर इसका स्टॉक वित्त वर्ष 2025E की कंसॉलिडेटेड अर्निंग्स के 15 गुना पर ट्रेड कर रहा है.

इसे ध्यान में रखते हुए मारवाड़ी शेयर्स एंड फाइनेंस ने सेक्टर का कवरेज शुरू कर दिया है. बाय रेटिंग के साथ इसने इसका प्राइस टार्गेट 12,860 रुपये तय किया है. यानी, शेयरों में 89 फीसदी उछाल की उम्मीद है.

(डिसक्लेमर: यहां दिए गए शेयरों से जुड़े सुझाव ब्रोकरेज फर्म ने दिए हैं. मनी9 और उसका प्रबंधन इनकी कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है. निवेश करने से पहले अपने इन्वेस्टमेंट एडवाइजर की सलाह जरूर लें)

हमें फॉलो करें

(मार्केट अपडेट और जाने अमीर कैसे बने सिर्फ आपके Money9 हिंदी पर)

लेटेस्ट वीडियो

Money9 विशेष