IRCTC ऑल-टाइम हाइ से 30% से अधिक गिरा, 4,000-3,800 के स्तर पर कर सकते है खरीदारी

KR चोक्सी इंवेस्टमेंट मैनेजर्स के MD देवेन R चोक्सी मानते हैं कि, यदि आपने IRCTC को कम कीमत पर खरीदा हैं, तो इसे बेचने की कोई वजह नहीं हैं.

IRCTC ऑल-टाइम हाइ से 30% से अधिक गिरा, 4,000-3,800 के स्तर पर कर सकते है खरीदारी
तत्काल टिकट यात्रा से एक दिन पहले AC क्लास के लिए सुबह 10 बजे और स्लीपर क्लास के लिए सुबह 11 बजे बुक किए जा सकते हैं

अहमदाबादः IRCTC tanks over 30%: पिछले कुछ दिनों से लगातार तेज गति से बढ रहे इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (IRCTC) के शेयरों में भारी ब्रेक लग गई हैं, और कल के ऑल-टाइम हाइ लेवल से शेयर 30% से अधिक गिरा हैं. IRCTC के शेयर हर किसी के रडार पर हैं क्योंकि उन्होंने सिर्फ दो कारोबारी सत्रों में 31.57% की गिरावट दर्ज की है. इसने कल 6,396.30 रुपये के उच्चतम स्तर को छुआ और आज के सत्र में अब तक 4,371.25 रुपये का निचला स्तर बनाया.

स्टॉक की कीमत 11 अक्टूबर, 2021 को 4,772.85 रुपये के अपने अंतिम निचले स्तर के बंद से पांच सत्रों में बडी ही तेजी से 31.64% बढ गई थी, जो अब बहुत तेज गति से नीचे आई हैं. इस काउंटर में पिछले पांच सत्रों कि अथक रैली ने इसके बाजार पूंजीकरण (एम-कैप) को मंगलवार के दिन 1 लाख करोड़ रुपये के पार पहुंचा दिया और यह 1 लाख करोड़ रुपये से अधिक मार्केट कैप के साथ नौवां सार्वजनिक उपक्रम बन गया.

स्वास्तिका इन्वेस्टमार्ट के रिसर्च हेड संतोष मीणा ने कहा, “IRCTCने कल और आज के कारोबारी सत्र में 6,396 रुपये के रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंचने के बाद तेज गिरावट देखी. फंडामेंटल अभी भी मजबूत हैं, लेकिन तेजी के बाद वैल्यूएशन की चिंता है और एक स्पष्ट सट्टा कदम था क्योंकि हर दिन व्यापारियों के लिए पैसा कमाना आसान था. इसलिए, हम एक तकनीकी सुधार देख रहे हैं और 20- DMA ((डेली मूविंग एवरेज) की ओर बढ़ सकते हैं, जो 4,500 रुपये के स्तर के साथ मेल खा सकता है. हालांकि, 4,000-3,800 रुपये ताजा खरीदारी की स्थिति लेने के लिए एक महत्वपूर्ण मांग क्षेत्र होगा.”

IRCTC रेल मंत्रालय के प्रशासनिक नियंत्रण के तहत एक मिनी रत्न सार्वजनिक क्षेत्र का उद्यम हैं और भारतीय रेलवे द्वारा अधिकृत एकमात्र इकाई है जो भारत में रेलवे स्टेशनों और ट्रेनों में रेलवे, ऑनलाइन रेलवे टिकट और पैकेज्ड पेयजल प्रदान करने के लिए अधिकृत है. कंपनी में भारत सरकार की 67.4% हिस्सेदारी है.

IRCTC ने Q1 FY22 में 82.52 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ दर्ज किया, जबकि Q1 FY21 में 24.6 करोड़ रुपये का शुद्ध नुकसान था. Q1 FY22 में Q1 FY21 की तुलना में ऑपरेशन से राजस्व 85.3% साल-दर-साल बढ़कर 243.36 रुपये हो गया.

IRCTC के शेयरों को 14 अक्टूबर, 2019 को एक्सचेंजों पर सूचीबद्ध किया गया था. स्टॉक 644 रुपये पर शुरू हुआ, जो प्रारंभिक सार्वजनिक प्रस्ताव (IPO) के 320 रुपये के ऑफर मूल्य पर 101.25% का प्रीमियम हैं. स्टॉक अपने IPO मूल्य से 1,268% बढ़ गया है.

IRCTC ने 29 अक्टूबर, 2021 को रिकॉर्ड डेट के रूप में तय किया है, जो प्रत्येक 10 रुपये के इक्विटी शेयरों को 2 रुपये कि फेस वैल्यू के पांच (5) इक्विटी शेयरों में उप-विभाजन / विभाजन के लिए हकदार शेयरधारकों के नाम का पता लगाने के लिए है. इसका शेयर 28 अक्टूबर, 2021 को स्टॉक- स्प्लिट के लिए एक्स-डेट हो जाएगा.

BSE पर दोपहर 2 बजे IRCTC के शेयर 17.12% फीसल कर 4,450 पर ट्रेड हो रहे हैं, वहीं NSE पर 18.75% गिरावट के साथ इसमें 4,433.05 के स्तर पर कारोबार हो रहा हैं. मंगलवार को इंट्रा-डे कारोबार के दौरान इसने 8% के उछाल के साथ 6,393 का ओल-टाइम हाइ लेवल बनाया.

IRCTC 1 ट्रिलियन रूपये (1 लाख करोड़ रूपये) के बाजार पूंजीकरण को पार करने वाली नौवीं PSU फर्म बन गई. इससे पहले, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, कोल इंडिया, NMDC लिमिटेड, इंडियन ऑयल कॉर्प लिमिटेड, पावर ग्रिड कॉर्प लिमिटेड, SBI लाइफ इंश्योरेंस, भारत पेट्रोलियम कॉर्प और SBI कार्ड्स जैसे PSU शेयरों ने यह उपलब्धि हासिल की है.

KR चोक्सी इंवेस्टमेंट मैनेजर्स के MD देवेन R चोक्सी मानते हैं कि, यदि आपने IRCTC को कम कीमत पर खरीदा हैं, तो इसे बेचने की कोई वजह नहीं हैं. विश्लेषकों ने कहा कि IRCTC के मजबूत तरीके से ठीक होने की उम्मीद है. मारवाड़ी फाइनेंशियल सर्विसेज में सलाहकार, उपाध्यक्ष अखिल राठी ने कहा, “एक कंपनी के रूप में IRCTC एक शुद्ध एकाधिकार व्यवसाय है और स्टॉक की कीमतों में हालिया उछाल अर्थव्यवस्था और आगामी त्योहारी सीजन को अनलॉक करने के पीछे शेयरधारकों को बहुत अच्छा इनाम दे रहा है जो कंपनी के राजस्व को बढ़ावा देगा.”

 

हमें फॉलो करें

(मार्केट अपडेट और जाने अमीर कैसे बने सिर्फ आपके Money9 हिंदी पर)

लेटेस्ट वीडियो

Money9 विशेष