अगर शेयर मार्केट में करने जा रहे हैं निवेश तो जान लें ये जरूरी बातें

स्मॉलकैप कैटेगरी के उन शेयरों से दूर रहना है जिनके बारे में ज्यादा जानकारी आपको नहीं पता. ये अपने पैर पर कुल्हाड़ी मारने जैसा है.

  • Money9 Hindi
  • Publish Date - October 16, 2021 / 03:26 PM IST
अगर शेयर मार्केट में करने जा रहे हैं निवेश तो जान लें ये जरूरी बातें
वर्तमान स्तर को देखते हुए तुलना की जाए तो 15 फीसदी तेजी का मतलब सेंसेक्स लगभग 70 हजार के आस-पास और निफ्टी तकरीबन 20,500 के तक पहुंच जाएगा

Stock Market: बड़ी कमाई करने के इरादे से शेयर बाजार में पहला कदम रखने जा रहे हैं तो आपको पहले अपना होमवर्क करना होगा. अपनी गाढ़ी कमाई पर शेयर बाजार से जुड़े रिस्क लेने की सोच रहे हैं तो जरूरी है कि इस होमवर्क को आप खुद ही करें. क्योंकि कमाई आपकी है, तो फैसले भी आपके होने चाहिए. निवेश करने से पहले आपको प्रक्रिया से लेकर सही कंपनी का चुनाव करने को लेकर कुछ बातों पर गौर करना होगा.

जब आप किसी कंपनी के शेयर खरीदते हैं उस कंपनी की ग्रोथ का हिस्सा बनते हैं. शेयरों में मार्केट के सेंटिमेंट, कंपनी के आय और मुनाफे, सरकारी नीतियों, विदेशी बाजार के संकेतों और अन्य कई कारणों से उतार-चढ़ाव आता है. शेयर बाजार में जोखिम भी है. अगर आप जोखिम ले सकते हैं तो ही सीधे शेयर बाजार में निवेश कर सकते हैं.

डीमैट खाता होना अनिवार्य

जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेस के वाइस प्रेसिडेंट गौरांग शाह का कहना है कि शेयरों में निवेश का पहला हिस्सा है डीमैट खाता खुलवाना. निवेशक को सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया (SEBI) में रजिस्टर्ड ब्रोकर के पास ही अपना डीमैट खाता खुलवाना चाहिए. ये खाता आप ऑनलाइन भी खुलवा सकते हैं.

बिजनेस समझ आए तभी करें निवेश

शाह कहते हैं कि जब आप निवेश के लिए कोई कंपनी चुनें तो लोगों की कही-सुनी पर फैसले ना लें. अपने पैसों के निवेश से पहले आपको रिसर्च करने की जरूरत है. रिसर्च के लिए  आपको ढेर सारे रेश्यो या बैलेंस शीट खोलकर देखने की जरूरत नहीं है. लेकिन आपको कंपनी के बिजनेस को समझना होगा कि कंपनी क्या काम करती है, क्या सर्विस या कौन से प्रोडक्ट बनाती है, पिछला प्रदर्शन कैसा रहा है, मैनेजमेंट में कौन से लोग हैं. अगर आपको कंपनी का बिजनेस समझ आया तो ही निवेश करें.

पानी में कूदने से पहले सीखें तैरना

निवेश से पहले आपको कई सवाल पूछने होंगे. आप कंपनी से जुड़े इन सवालों को या अपनी उलझनों को एक्सपर्ट से पूछ सकते हैं या रिसर्च कर सकते हैं. गौरांग शाह कहते हैं कि आप निवेश से पहले जितने सवाल पूछना चाहें, जितनी सलाह लेना चाहें उतना रिसर्च करें, लेकिन निवेश के बाद कंपनी से जुड़े सवाल करना पानी में कूदने के बाद तैरना सीखने जैसा है.

लंबी रेस का बनें हिस्सा

एक्सपर्ट्स सलाह देते हैं कि शेयर बाजार में हमेशा लंबे समय के लिए निवेश करें और उन शेयरों को चुनें जिनमें अच्छी ग्रोथ की संभावना है और अच्छी क्वालिटी की कंपनी है. शाह के मुताबिक आपको स्मॉलकैप कैटेगरी के उन शेयरों से दूर रहना है जिनके बारे में ज्यादा जानकारी आपको नहीं पता. ये अपने पैर पर कुल्हाड़ी मारने जैसा है.

नए निवेशक रहे संभलकर

अगर आप शेयर बाजार में शुरुआती निवेशक हैं तो STBT, BTST जैसे ट्रेड लेने से बचें जिनमें आपके लिए जोखिम ज्यादा हो सकता है. यानी, आज खरीदारी कर कल मुनाफे के लिए बेच देना या आज बेचकर कल खरीदारी करना जैसे ट्रेड. शेयर बाजार के निवेश में अनुशासन जरूरी है.

मुनाफा है जरूरी

शेयर की हुई ग्रोथ से तब तक आपका मुनाफा नहीं हुआ जब तक आपने उसे बुक नहीं किया है. गौरांग शाह का कहना है कि निवेशक को जब लगे कि उसका लक्ष्य हासिल हो गया है तब उसे मुनाफा बुक कर लेना है और ज्यादा लालच में नहीं फंसना चाहिए. वे कहते हैं कि कंजर्वेटिव आधार पर अगर आपको 10-15 फीसदी का मुनाफा हुआ है तो आप कुछ शेयर बेचकर मुनाफा बुक कर सकते हैं. लंबी अवधि में आपको अनुशासन बनाना होगा और अपने निवेश का ट्रैक रखना होगा.

हमें फॉलो करें

(मार्केट अपडेट और जाने अमीर कैसे बने सिर्फ आपके Money9 हिंदी पर)

लेटेस्ट वीडियो

Money9 विशेष