अमरनाथ यात्रा के लिए के लिए 13 हजार से ज्‍यादा लोगों ने कराया रजिस्‍ट्रेशन

Amarnath Yatra: केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने अमरनाथ यात्रा को सफल बनाने के लिए 11 करोड़ की धनराशि उपलब्ध करवाई है.

अमरनाथ यात्रा के लिए के लिए 13 हजार से ज्‍यादा लोगों ने कराया रजिस्‍ट्रेशन

Amarnath Yatra: 2021 में अमरनाथ यात्रा 28 जून से शुरू हो रही है. ऐसे में केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने अमरनाथ यात्रा को सफल बनाने के लिए 11 करोड़ की धनराशि उपलब्ध करवाई है. बुधवार को वित्त आयुक्त अरुण कुमार मेहता ने आदेश जारी कर सभी विभागों से कहा है कि अमरनाथ यात्रा के लिए सारे प्रबंध निर्धारित समय पर पूरे किए जाएं. यात्रा के लिए अभी तक 13 हजार से अधिक श्रद्धालुओं ने पंजीकरण करवा लिया है.

बजट में उपलब्ध धनराशि के तहत ही करवाए जाएंगे कार्य
अमरनाथ यात्रा के सुचारु संचालन के लिए चालू वित्तीय वर्ष में 11 करोड़ रुपये की धनराशि एक अप्रैल से उपलब्ध करवाई गई है. वित्त आयुक्त अरुण कुमार ने कहा कि इसका उपयोग नियमों के तहत किया जाना चाहिए. बजट में उपलब्ध धनराशि के तहत ही कार्य करवाए जाएं. किसी भी तरह की कोई देनदारी नहीं होनी चाहिए. सभी कार्यों के लिए श्री अमरनाथ श्राईन बोर्ड और वित्त विभाग से मंजूरी लेनी होगी. वित्त विभाग ने कार्यों के लिए टेंडर जारी करने को अनुमति प्रदान कर दी है.

56 दिन तक चलेगी यात्रा
वहीं यात्रा के नोडल विभाग की जिम्मेदारी संभाल रहे पर्यटन विभाग ने कहा कि वह संबंधित विभागों के साथ मिल कर यात्रा की सफलता के लिए आवश्यक कार्य योजना तैयार कर वित्त विभाग को भेजें, ताकि उसके मुताबिक धनराशि जारी की जा सके.
बता दें कि इस साल की अमरनाथ यात्रा 28 जून से शुरू हो रही है. यात्रा 56 दिन तक चलेगी. 22 अगस्त को रक्षाबंधन वाले दिन यात्रा संपन्न होगी. इसी बीच अभी तक 13 हजार से अधिक श्रद्धालुओं ने पंजीकरण करवा लिया है.

सीसीटीवी और ड्रोन से होगी निगरानी
इस वर्ष के दौरान अमरनाथ यात्रा (Amarnaath Yatra) किसी भी घटना से मुक्त होगी. सीसीटीवी, ड्रोन अमरनाथ यात्रा (Amarnaath Yatra) के वाहनों की निगरानी करेंगे और यात्रा मार्गों पर सुरक्षाबलों की चौबीसों घंटे नजर रहेगी. इसी के साथ उन्होंने तीर्थ यात्रियों से बिना किसी डर के यात्रा पर आने का आह्वान किया है. आतंकवादियों व शरारती तत्वों से बचाये रखने के लिए सीसीटीवी, ड्रोन अमरनाथ यात्रा के वाहनों की निगरानी करेंगे और यात्रा मार्गों पर सुरक्षाबलों की चौबीसों घंटे नजर रहेगी.

पर्सनल फाइनेंस पर ताजा अपडेट के लिए करें।