लाइफ इंश्योरेंस के लिए यूलिप, टर्म और एंडोमेंट पॉलिसियों में से किसे चुनें?

ULIP इन्वेस्टमेंट और इंश्योरेंस दोनों का कॉम्बिनेशन है. ULIP प्रीमियम के एक हिस्से का इस्तेमाल इंश्योरेंस का भुगतान करने के लिए किया जाता है.

लाइफ इंश्योरेंस के लिए यूलिप, टर्म और एंडोमेंट पॉलिसियों में से किसे चुनें?
अगर आप इंश्योर्ड पीरियड के बाद तक जीवित हैं, तो आपको प्रीमियम के रूप में चुकाए गए सभी पैसे को भूल जाना होगा

लाइफ इंश्योरेंस (life insurance) खरीदते समय, लोग तीन चीजें देखते हैं बीमा राशि, प्रीमियम और पॉलिसी की अवधि लेकिन अगर कोई व्यक्ति इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदना चाहता है तो उसके सामने बहुत सारे ऑप्शन हैं. तीन तरह के लाइफ इंश्योरेंस (
life insurance) प्रोडक्ट मार्केट में उपलब्ध हैं- यूलिप, टर्म इंश्योरेंस और एंडोमेंट. आपको देखना होगा कि आपकी जरूरत के हिसाब से कौन सा ऑप्शन फिट होता है. Money9 आपको इन आपको इन प्रोडक्ट के बारे में बताएगा ताकी आप निर्णय ले सकें कि कौन सा विकल्प आपके लिए बेहतर है.

ULIP

यूनिट लिंक्ड इंश्योरेंस प्लान (ULIP) इन्वेस्टमेंट और इंश्योरेंस दोनों का कॉम्बिनेशन है. ULIP प्रीमियम के एक हिस्से का इस्तेमाल इंश्योरेंस का भुगतान करने के लिए किया जाता है. दूसरे हिस्से को विभिन्न तरह के फंडों में इन्वेस्ट किया जाता है – इक्विटी, डेट और बैलेंस्ड. यूलिप में कई तरह के फंड हो सकते हैं, जिससे आपको काफी फ्लैक्सिबिलिटी मिलती है.
यूलिप आपको इंश्योरेंस, वेल्थ क्रिएशन और टैक्स-सेविंग इन्वेस्टमेंट का ट्रिपल एडवांटेज देता है.

टर्म या एंडोमेंट प्लान के विपरीत, यूलिप पर रिटर्न की गारंटी नहीं होती है, लेकिन यह ज्यादा हो सकता है क्योंकि ये फंड के मार्केट परफॉर्मेंस पर आधारित होते हैं. साथ ही, यूलिप के साथ, आपके पास फंड स्विच करने और अपनी इन्वेस्टमेंट स्ट्रेटजी बदलने की फ्लेक्सिबिलिटी होती है. दूसरी इंश्योरेंस पॉलिसी की तरह, यूलिप भी इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80C और 10D के तहत टैक्स एफिशिएंट हैं.

टर्म इंश्योरेंस

एक टर्म लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी सबसे सरल और सबसे ज्यादा कॉस्ट इफेक्टिव लाइफ इंश्योरेंस प्रोडक्ट में से एक है. यह पॉलिसी टर्म के दौरान एक स्पेसिफाइड पीरियड के लिए लाइफ कवरेज प्रोवाइड करती है और यदि पॉलिसी होल्डर की मृत्यु हो जाती है, तो नॉमिनी को एकमुश्त या मासिक भुगतान के रूप में बीमा राशि का भुगतान किया जाता है. टर्म इंश्योरेंस न्यूनतम प्रीमियम पर अधिकतम कवरेज का फायदा देता है. यूलिप या एंडोमेंट पॉलिसी की तुलना में, टर्म इंश्योरेंस एक परिवार को अधिक वित्तीय सुरक्षा प्रदान कर सकता है. हालांकि, इसमें यूलिप या एंडोमेंट पॉलिसी की तरह सेविंग या वेल्थ क्रिएशन के फायदे नहीं हैं.

टर्म इंश्योरेंस प्लान का प्रीमियम बहुत कम होता है. एक 30 साल के व्यक्ति को केवल 25,000 रुपये वार्षिक प्रीमियम के साथ 2 करोड़ रुपये का कवरेज मिल सकता है. लेकिन अगर आप इंश्योर्ड पीरियड के बाद तक जीवित हैं, तो आपको प्रीमियम के रूप में चुकाए गए सभी पैसे को भूल जाना होगा.

एंडोमेंट पॉलिसी

एंडोमेंट पॉलिसी भारत में सबसे पॉपुलर लाइफ इंश्योरेंस प्रोडक्ट में से एक है क्योंकि यह एक यूनिट लिंक्ड इंश्योरेंस प्लान (यूलिप) के समान निवेश और लाइफ कवर के दोहरे फायदे को जोड़ती है. जब आप एक एंडोमेंट पॉलिसी में निवेश करते हैं, तो आपको लाइफ कवरेज मिलता है और साथ ही आपके या आपके बच्चे के भविष्य के लिए पैसे की सेविंग होती है. पॉलिसी होल्डर के परिवार या नॉमिनी व्यक्ति को पॉलिसी होल्डर की मृत्यु पर सम एश्योर्ड (बीमित राशि) मिलता है.

यदि पॉलिसी होल्डर पॉलिसी टर्म तक जीवित रहता है, तो उसे फुल मैच्योरिटी अमाउंट प्लस निवेशित धन पर मिला कोई बोनस भी मिलता है. इसका इस्तेमाल इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80C और 10D के तहत टैक्स डिडक्शन के लिए भी किया जाता है.

लेकिन डेट इंस्ट्रूमेंट होने के कारण एंडोमेंट पॉलिसी का रिटर्न यूलिप से कम होता है. यूलिप की तरह, एक एंडोमेंट पॉलिसी ट्रिपल एडवानटेज ऑफर करती है जो हैं- फ्यूचर के लिए इन्वेस्टमेंट, लाइफ कवरेज और टैक्स सेविंग.

हमें फॉलो करें

(मार्केट अपडेट और जाने अमीर कैसे बने सिर्फ आपके Money9 हिंदी पर)

लेटेस्ट वीडियो

Money9 विशेष