फ्री में मिल सकता है लाइफ कवर प्लान, तो क्या इसे लेना चाहिए? क्या है एक्सपर्ट की राय

स्पेशल एग्जिव वैल्यू ऑप्शन के तहत पॉलिसी होल्डर को 40 साल के टर्म के लिए 25 साल तक प्रीमियम देने के बाद चुकाया गया प्रीमियम वापस कर दिया जाता है.

  • Vijay Parmar
  • Publish Date - October 17, 2021 / 11:55 AM IST
फ्री में मिल सकता है लाइफ कवर प्लान, तो क्या इसे लेना चाहिए? क्या है एक्सपर्ट की राय
Pixabay - मैक्स लाइफ इंश्योरेंस प्लान का लाभ केवल 40 साल का टर्म पीरियड चुनने पर ही मिलता हैं.

Free Life Cover in Term Plan: क्या आपके पास कोई बीमा है जिसकी अब आपको जरूरत नहीं है? क्या आपने बहुत समय पहले बीमा खरीदा था और अब विश्वास करते हैं कि ये आपकी जरूरतों के मुताबिक नहीं है? या हो सकता है कि आप ऐसे बीमा की तलाश में हैं जो बाद में आसानी से बाहर निकलने की अनुमति दे? यदि आपने इनमें से एक या अधिक प्रश्नों का उत्तर हां में दिया है, और आप बीमा प्लान पर फुल स्टॉप लगाना चाहते हैं, तो कई बीमा कंपनियां ऐसे ऑप्शन दे रही हैं. कई जीवन बीमा पॉलिसी के तहत पॉलिसी होल्डर को एग्जिट का ऑप्शन मिलता है. ऐसे ही विकल्प के साथ मैक्स लाइफ इंश्योरेंस ने कुछ महीनो पहले स्मार्ट सिक्योर प्लस प्लान लॉन्च किया और कंपनी का दावा है कि इससे पॉलिसी होल्डर को फ्री लाइफ कवर मिलता है.

कैसे मिलता है फ्री लाइफ कवर?

मान लीजिए, आपकी उम्र 30 साल है और आपको धूम्रपान की आदत नहीं है तो मैक्स लाइफ स्मार्ट सिक्योर प्लस प्लान के तहत 40 साल कि टर्म चुनने पर आपको 25 साल तक प्रीमियम भुगतान करने के बाद एग्जिट करने का विकल्प मिलता है. यानी, 65 साल की उम्र में जब आप पर कोई जिम्मेदारियां नहीं होंगी, तब आप 25 साल तक चुकाए गए प्रीमियम को वापस पा सकते हैं, और इस तरह आपका 25 साल का लाइफ कवर फ्री हो जाता है.

प्रीमियम

रिटर्न ऑन प्रीमियम विकल्प वाले टर्म प्लान में प्रीमियम काफी अधिक होता है. प्योर टर्म प्लान, जिसमें मैच्योरिटी बेनेफिट नहीं मिलता है, उनके मुकाबले रिटर्न ऑन प्रीमियम वाले बीमा प्लान का प्रीमियम 70-80 फीसदी ज्यादा होता है. आपकी उम्र 30 साल है और आप नॉन-स्मोकर हैं, तो 2 करोड़ रुपये का सम एश्योर्ड चुनने पर आपको सालाना 25,800 रुपये का प्रीमियम भुगतान करना होगा. अगर आप 25 साल के हैं और इतना ही सम एश्योर्ड चुनते हैं, तो आपको सालाना 16,740 रुपये प्रीमियम का भुगतान करना होगा.

क्या करना चाहिए?

अधिकांश प्रकार के जीवन बीमा एक निकास विकल्प की अनुमति देते हैं जो लागत के साथ आता है, मानक अवधि बीमा योजनाओं में आमतौर पर ऐसा कोई विकल्प नहीं होता है. इसलिए, यदि कोई टर्म इंश्योरेंस प्लान से बाहर निकलना चाहता है, तो उसे दो बार सोचना होगा क्योंकि भुगतान किए गए प्रीमियम का नुकसान हो सकता है.

हरेक शख्स की अनूठी जरूरतें होती हैं जो समय के साथ बदलती रहती हैं. जीवन के विभिन्न चरणों के साथ पारिवारिक जरूरतें, वित्तीय आवश्यकताएं और साथ ही जिम्मेदारियां विकसित होती रहती हैं. इसलिए, इन सभी आवश्यकताओं को पूरा कर सके ऐसा जीवन बीमा प्लान होना जरूरी है. अगर आपके पास ऐसा बीमा है, जिसकी आपको अब जरूरत नहीं है, इससे बाहर निकलने और पैसा कहीं और खर्च करने का बेहतर विचार है. आप प्रीमियम राशि का उपयोग अन्य उद्देश्यों के लिए कर सकते हैं.

कई जीवन बीमा प्लान आपको एग्जिट की अनुमति देते हैं और आपको भुगतान किए गए संचयी प्रीमियम प्रदान करते हैं, तो आपको निर्णय लेने के लिए अपनी अनूठी आवश्यकताओं का सावधानीपूर्वक विश्लेषण करना चाहिए.

जबकि आपको अपने बीमा से एग्जिट करन की आवश्यकता नहीं है, और आप मानते हैं कि ऐसी संभावना हो सकती है कि आपको बाद में अपने बीमा की आवश्यकता न हो, तो यह सलाह दी जाती है कि आप ऐसी योजना का चयन करें जिसमें पहले से ही ऐसे पहलुओं को ध्यान में रखा गया हो.

हमें फॉलो करें

(मार्केट अपडेट और जाने अमीर कैसे बने सिर्फ आपके Money9 हिंदी पर)

लेटेस्ट वीडियो

Money9 विशेष