कार इंश्योरेंस लेने के साथ ये 9 राइडर्स जरूर लें, होगा फायदा

पर्सनल एक्सीडेंट ऐड-ऑन राइडर गाड़ी के मालिक या ड्राइवर के साथ दुर्घटना होने पर कवर देता है. इसमें मामूली चोट से लेकर गंभीर नुकसान तक का कवर मिलता है.

  • Paurav Joshi
  • Publish Date - August 12, 2021 / 01:00 PM IST
कार इंश्योरेंस लेने के साथ ये 9 राइडर्स जरूर लें, होगा फायदा
image: Pixabay, गाड़ी के ठीक होने तक अगर आप किसी होटल में रुकते हैं तो कुछ शर्तों के साथ इसका खर्चा भी बीमा कंपनी देती है.

कार में किसी तरह के नुकसान की भरपाई करने का सबसे बढिय़ा तरीका होता है उसकी इंश्योरेंस पॉलिसी. कार इंश्योरेंस में कंपनियों के नियम और मिलने वाले कवर में अंतर होता है. यह भी संभव है कि आपकी कार दुर्घटनाग्रस्त हो जाए, लेकिन बीमा कंपनी कवर देने से मना कर दे. कंपनी इसकी वजह यह बताती है कि कार के जिस पार्ट का नुकसान हुआ है, वह उसके पॉलिसी में कवर है ही नहीं. कार बीमा राइडर्स, बीमा पॉलिसी के अतिरिक्त लाभ हैं, जिन्हें आप अतिरिक्त कीमत देकर प्राप्त करते हैं. आज हम एसे 9 राइडर्स के बारे में आपको बताएंगे

जीरो डेप्रिसिएशन राइडर

बीमा कंपनियों की ओर से पेश एड ऑन राइडर में जीरो डेप्रिसिएशन सबसे पॉपुलर है. यह राइडर पॉलिसी होल्डर को कार दुर्घटना होने पर होने वाले नुकसान का 100 फीसदी कवर प्रदान करता है. मार्केट में ज्‍यादातर बीमा कंपनियां गाड़ी खरीदने के तीन साल तक जीरो डेप्रिसिएशन राइडर ऑफर करती हैं. गाड़ी पुरानी होने पर जीरो डेप्रिसिएशन का प्रीमियम महंगा हो जाता है. जीरो डेप्रिसिएशन राइडर गाड़ी के प्लास्टिक पार्ट, विंड स्‍क्रीन आदि के नुकसान को कवर करता है.

पर्सनल एक्सीडेंट राइडर

पर्सनल एक्सीडेंट ऐड-ऑन राइडर गाड़ी के मालिक या ड्राइवर के साथ दुर्घटना होने पर कवर देता है. इसमें मामूली चोट से लेकर गंभीर नुकसान तक सभी का कवर मिलता है. अगर कार की दुर्घटना में पॉलिसी होल्डर की मृत्‍यु हो जाती है तो नॉमिनी को 100 फीसदी क्लेम मिलता है. अगर, दुर्घटना में पॉलिसी होल्डर अपना हाथ या पैर गंवा देता है तो उसे क्लेम में 100 फीसदी सम एश्‍योर्ड मिलता है.

एंबुलेंस और इलाज के खर्चों का राइडर

कार दुर्घटना होने की स्थिति में आपको और आपके सह-यात्रियों को गंभीर चोटों का सामना करना पड़ सकता है. ऐसे में घायलों को इलाज के लिए तुरंत अस्पताल पहुंचाने की ज़रूरत होती है. यह राइडर एंबुलेंस और इलाज पर होने वाले लगभग 10,000 रुपये तक के खर्च की क्षतिपूर्ति करता है.

रोड साइड कवर

कार के रास्ते में खराब होने पर यह पॉलिसी मदद करती है. यह ऐड-ऑन कवर के लेने पर आपको बिना कोई पैसा खर्च किए देशभर में ऑन द स्पॉट गाड़ी ठीक कराने की सुविधा दी जाती है. गाड़ी के ठीक होने तक अगर आप किसी होटल में रुकते हैं तो कुछ शर्तों के साथ इसका खर्चा भी बीमा कंपनी देती है.

ब्रेक-डाउन असिस्‍टेंस राइडर

इस राइडर को बहुत ही मिनिमम प्रीमियम भुगतान कर ले सकते हैं. इस राइडर को लेने के बाद अगर आपकी कार रोड पर खराब हो जाती है तो आप इंश्योरेंस कंपनी को इसकी सूचना देंगे. इंश्योरेंस कंपनी आपकी गाड़ी को गैरेज में पहुंचाएगी. हालांकि, गाड़ी में खराबी का भुगतान पॉलिसी होल्डर को करना होता है. इस राइडर का प्रीमियम गाड़ी की साइज को देखते हुए तय किया जाता है.

इंजन कवर राइडर

यह राइडर आपकी कार के इंजन को सुरक्षा प्रदान करता है. मॉनसून में सभी मेट्रो शहरों में पानी जमने के कारण बाढ़ जैसे हालत उत्पन्न हो जाते हैं. यह पानी आपके कार के इंजन में चला जाता है और इंजन काम करना बंद कर देता है. यह एड-ऑन कवर आपको नमी और मॉनसून में पानी जमने से इंजन खराब होना का कवर देता है.

सर्किट कवर

कई बार कार में चलते-चलते इंजन या इलेक्ट्रॉनिक सर्किट के कारण अचानक आग लग जाती है या कोई नुकसान हो जाता है तो ऐसे में यह बीमा गाड़ी मालिक के नुकसान को कवर करता है. इस कवर का फायदा गर्मियों में अधिक होता है, क्योंकि गर्मियों में कार में आग लगने के मामले बढ़ जाते हैं.

रिटर्न टु इनवॉइस

कार के चोरी होने पर ऐड-ऑन कवर के सहारे आपको कार की पूरी रकम मिल जाती है. साथ ही, इसमें आपको वह पैसा भी मिल जाता है जो आपने कार के रजिस्ट्रेशन और टैक्स में चुकाया था.

किराए की पूर्ति

आपनी कार मरम्मत के लिए भेजने के बाद आपको काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है. अपनी कार न होने पर ज़रूरी कामों को निपटाने के लिए, आपको कारपूल, पब्लिक ट्रांसपोर्ट या फिर गाड़ी किराए पर लेनी पड़ती है. आपके प्लान में अगर किराए की पूर्ति करने का प्रावधान है, तो बीमा कंपनी आपका कार रेंटल बिल चुका कर इस लागत से राहत दे सकती है.

पर्सनल फाइनेंस पर ताजा अपडेट के लिए करें।