लग गई है नौकरी तो पहले खरीदें हेल्थ इंश्योरेंस, जानिए क्या हैं इसके फायदे?

हेल्थ इंश्योरेंस इलाज के खर्चे का कवरेज प्रदान करता है. कम उम्र में इसे कम लागत में खरीद सकते हैं, इसीलिए विशेषज्ञ इसे खरीदने का सुझाव देते हैं.

  • Vijay Parmar
  • Publish Date - November 9, 2021 / 12:04 PM IST
लग गई है नौकरी तो पहले खरीदें हेल्थ इंश्योरेंस, जानिए क्या हैं इसके फायदे?
Pixabay -हेल्थ इंश्योरेंस करवाना फायदेमंद है, क्योंकि किसी भी मेडिकल इमरजेंसी की स्थिति में इससे काफी राहत होती है.

यदि आपकी नौकरी लग गई है या आपने अपना कारोबार शुरू किया है और आप पैसा कमाने लगे हैं, तो सबसे पहले अपने लिए हेल्थ इंश्योरेंस खरीद लें. कम उम्र में हेल्थ इंश्योरेंस खरीदने के कई फायदे हैं. यदि आपकी कंपनी आपको हेल्थ इंश्योरेंस प्रदान कर रही हैं, फिर भी उस पर निर्भर न रहें और अलग से हेल्थ इंश्योरेंस करवा लें. अधिकतर कंपनियां अपने कर्मचारियों को 2-5 लाख रुपये का हेल्थ इंश्योरेंस कवर देती हैं जो कि मौजूदा वक्त में लगातार ऊपर जा रहे इलाज के खर्च को देखते हुए भविष्य में कम साबित हो सकता है.

कम उम्र में हेल्थ इंश्योरेंस लेने के फायदेः

कम प्रीमियम

यदि आपकी उम्र 30 साल से कम है तो हेल्थ इंश्योरेंस लेने से सबसे बड़ा लाभ प्रीमियम के कम लागत का होता है. हेल्थ बीमा का प्रीमियम उसके लेने वाले लोग के उम्र पर निर्भर करता है. इससे साफ है कि 40 साल की व्यक्ति की तुलना में 30 साल के व्यक्ति की प्रीमियम की राशि कम होगी.

मान लीजिए अगर आप 25 साल की उम्र में 5 लाख रुपये का मेडिकल बीमा खरीदते हैं तो आपको 5,000 रुपये का मासिक भुगतान करना होगा. वहीं, आप 35 साल की उम्र में उसी इंश्योरेंस के लिए 6 हजार रुपये प्रति माह देंगे और 45 साल की उम्र में प्रति माह 8 हजार रुपये देंगे.

पर्याप्त कवर

कम उम्र में यदि आप 5 लाख रूपये का कवर खरीदते हैं और कुछ सालों तक क्लेम नहीं करते हैं तो आपको नो-क्लेम बोनस के तहत आपका कवर बढ़ाने में मदद मिलती है. चूंकि, कम उम्र में आपका स्वास्थ्य अच्छा होता है और अस्पताल में भर्ती होने की स्थिति नहीं आती है इसलिए आपको बीमा कंपनी बोनस के रूप में ज्यादा कवर ऑफर करती है.

वित्तीय सुरक्षा

कभी इलाज के लिए लाखों रुपये जरूरत पड़ सकती है और ऐसे में हेल्थ इंश्योरेंस होगा तो आपकी जेब पर कोई खास असर नहीं पड़ेगा. अस्पताल में भर्ती होने के मामले में आपको स्वास्थ्य बीमा से बहुत बड़ा फायदा मिलता है. ऐसे वक्त में स्वास्थ्य बीमा होने पर आपको अपने पैसों का भुगतान नहीं करना होगा. आप स्वास्थ्य संबंधी खर्चे की चिंता किए बिना अपना फाइनेंस बेहतर ढंग से मैनेज कर सकते हैं.

टैक्स बेनेफिट

आयकर अधिनियम की धारा 80डी के अनुसार स्वास्थ्य बीमा योजनाओं के लिए भुगतान किए गए प्रीमियम के लिए कर छूट का दावा किया जा सकता है. इसलिए कम उम्र में बीमा पॉलिसी खरीदने से व्यक्ति को बाद के समय के लिए प्रतीक्षा अवधि से बचने और लाभ उठाने में मदद मिलती है.

असमय बीमारियों से सुरक्षा

इंसान कभी भी किसी भी तरह की बीमारी का शिकार हो सकता है. जैसे की मधुमेह, ह्दय जैसे कई रोग है जो इंसान को असमय परेशान कर सकतो हैं. इन बीमारियों के इलाज में आपको हेल्थ इंश्योरेंस काफी लाभ पहुंचाएगा. स्वास्थ्य बीमा होने से आपको विशिष्ट सर्जरी, विशेष उपचार और बीमारी के लिए पर्याप्त पूंजी मिल जाएगी.

कई बीमारियों का कवर

कम उम्र में हेल्थ इंश्योरेंस लेने से भविष्य में उत्पन्न होने वाली किसी भी मेडिकल इमरजेंसी में मदद मिलेगी. हेल्थ इंश्योरेंस सिर्फ अस्पताल में भर्ती होने की लागत को ही कवर नहीं करता, बल्कि रोजाना के खर्चों और ओपीडी को भी कवर करता है. हेल्थ इंश्योरेंस में सभी प्रकार की बीमारियों को कवर किया जाता है.

हमें फॉलो करें

(मार्केट अपडेट और जाने अमीर कैसे बने सिर्फ आपके Money9 हिंदी पर)

लेटेस्ट वीडियो

Money9 विशेष