जानिए किसे नही लेना चाहिए Term plan, ये हैं कारण

केवल टैक्स बचाने के लिए टर्म प्लान खरीदने की योजना बना रहे हैं, तो आपको इसे नहीं खरीदना चाहिए.

जानिए किसे नही लेना चाहिए Term plan, ये हैं कारण
यदि आप अपने माता-पिता के लिए टर्म प्लान खरीदने के बारे में सोच रहे हैं तो ऐसा करना बहुत महंगा साबित हो सकता है.

हमारे परिवार की वित्तीय सुरक्षा के लिए प्योर टर्म प्लान लेना अनिवार्य है. इसका उद्देश्य आपकी दुर्भाग्यपूर्ण मृत्यु होने के बाद आपके परिवार को वित्तीय सहायता देना है. दूसरे फाइनेंशियल प्रोडक्ट के साथ जुड़ी गलतफहमियों की तरह टर्म प्लान के साथ भी कुछ गलतफहमियां जुड़ी हैं और कई लोग टर्म प्लान खरीदने से पहले ऐसी गलतफहमियों का शिकार हो जाते हैं और गलत वजह से इसे खरीदते हैं. अपने वित्तीय लक्ष्यों को निर्धारित किए बिना और टर्म प्लान के सटीक लाभों को समझे बिना इसे खरीदना नहीं चाहिए.

गलत टर्म प्लान खरीदना, या गलत कारणों से उसे खरीदना न केवल पैसे की बर्बादी है, बल्कि यह तब भी बेकार हो जाता है जब किसी को इसकी सबसे ज्यादा जरूरत होती है. इसलिए, आपको अपने टर्म प्लान खरीदने के सही कारणों के बारे में शिक्षित होना चाहिए. आपको अपने बच्चों को शिक्षा प्रदान करने, बकाया ऋणों का भुगतान करने, कमाने वाले व्यक्ति की दुर्भाग्यपूर्ण मृत्यु हो जाए तो उसके परिवार के सदस्यों को नियमित गारंटीकृत आय प्रदान करने जैसे कारणों के लिए टर्म प्लान खरीदना चाहिए. इसके अलावा, सुनिश्चित करें कि आप पर्याप्त रूप से कवर हैं.

किसे नहीं खरीदना चाहिए टर्म प्लान

यदि आप अपने माता-पिता के लिए टर्म प्लान खरीदने के बारे में सोच रहे हैं तो ऐसा करना बहुत महंगा साबित हो सकता है, क्योंकि टर्म प्लान का प्रीमियम उम्र के साथ बढ़ता है. 30 साल के नॉन-स्मॉकर व्यक्ति को 1 करोड़ रुपये का टर्म प्लान सालाना 15,000 रुपये के प्रीमियम में मिलता है, वहीं 50 साल से ज्यादा उम्र के व्यक्ति को इसके लिए दोगुना या तीन गुना प्रीमियम चुकाना पड़ता है. इससे बेहतर है आप उतना ही पैसा दूसरी जगह निवेश करें, जो अच्छा रिटर्न कमाने का मौका प्रदान करते हैं.

टैक्स बचाने के लिए

केवल टैक्स बचाने के लिए टर्म प्लान खरीदने की योजना बना रहे हैं, तो आपको इसे नहीं खरीदना चाहिए. कई लोग अपने वार्षिक कर-बचत निवेश को वित्तीय वर्ष के अंत तक टाल देते हैं, और जब CA भारी कर से बचने के लिए निवेश की सलाह देता है, तो कर बचत निवेश विकल्पों में निवेश करते हैं. टर्म प्लान को लेने का उद्देश्य टैक्स बचाने का नहीं होना चाहिए.

रिटर्न बढ़िया है इसलिए

बीमित व्यक्ति की मृत्यु पर नामांकित व्यक्ति को मिलने वाली बीमित राशि की तुलना में भुगतान किया जाने वाला प्रीमियम बहुत कम होता है, इसलिए कुछ लोग टर्म प्लान को निवेश के लिए एक बेहतरीन विकल्प के रूप में देखते हैं. यह निश्चित रूप से गलत है. टर्म प्लान खरीदने का उद्देश्य निवेश आय प्रदान करना नहीं होना चाहिए. यदि आपके साथ कुछ अनहोनी हो जाए तो इसका उद्देश्य आश्रितों को आय प्रदान करना होना चाहिए.

बीमा एजेंट को लक्ष्य पूरा करने में मदद करने के लिए

बीमा एजेंट आपका दोस्त या रिश्तेदार हो, फिर भी उसकी सिफारिश के आधार पर निवेश करने से पहले हजार बार सोच लेना चाहिए. बीमा एजेंट महीनों से आपका पीछा कर रहा है, या आप उसका टार्गेट पूरा करने में उसकी मदद करना चाहते हैं, तो निश्चित रूप से आपको टर्म प्लान नहीं खरीदना चाहिए.

सिर्फ इसलिए कि आपके दोस्त ने इसे खरीदा है

एक ही टर्म प्लान को उसी ‘सम एश्योर्ड’ के साथ खरीदना, सिर्फ इसलिए कि आपके दोस्त ने इसे खरीदा है, यह सबसे बड़ी गलतियों में से एक है. ऐसा इसलिए है क्योंकि आपके और आपके मित्र के अलग-अलग वित्तीय लक्ष्य हो सकते हैं.

हमें फॉलो करें

(मार्केट अपडेट और जाने अमीर कैसे बने सिर्फ आपके Money9 हिंदी पर)

लेटेस्ट वीडियो

Money9 विशेष