IRDAI ने कोविड पॉलिसी खरीदने की बढ़ाई समय सीमा, जानिए क्या हैं इसके फायदे

IRDAI ने सभी इंश्योरेंस कंपनियों को 31 मार्च, 2022 तक कोविड स्पेसिफिक हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसियों को रिन्यू और ऑफर करने की परमिशन दी है.

IRDAI ने कोविड पॉलिसी खरीदने की बढ़ाई समय सीमा, जानिए क्या हैं इसके फायदे
सुरक्षा के पहले स्तर के तौर पर हमेशा एक बेसिक हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदनी चाहिए. यह बहुत वाइड कवरेज देती है. PC: Pixabay

कोविड -19 की तीसरी लहर के खतरे को देखते हुए, भारतीय बीमा नियामक एवं विकास प्राधिकरण (IRDAI) ने सभी इंश्योरेंस कंपनियों को 31 मार्च, 2022 तक शॉर्ट टर्म कोविड- स्पेसिफिक हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसियों को रिन्यू और ऑफर करने की परमिशन दी है. ये एक्सटेंशन ऐसे समय में आया है जब भारत ने अपने वैक्सीनेशन ड्राइव को मई में 2 मिलियन से बढ़ाकर सितंबर में 7.8 मिलियन प्रतिदिन एवरेज डोज के साथ बढ़ाया है.

IRDAI ने 2020 में इंश्योरेंस कंपनियों को स्टैंडर्ड शॉर्ट टर्म कोरोना वायरस स्पेसिफिक पॉलिसियां शुरू करने का निर्देश दिया था, ताकि लोगों की इस मुश्किल दौर में हेल्थ कवर तक पहुंच हो. शुरुआत में पॉलिसी केवल 31 मार्च 2021 तक ऑफर की गई थी और बाद में 30 सितंबर, 2021 तक बढ़ा दी गई थी.

कोरोना कवच पॉलिसी में कोविड-19 के इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती होने का खर्च शामिल है. इस पॉलिसी में कमरे के किराए की कोई लिमिट नहीं है और हर इंसिडेंट अधिकतम 14 दिनों तक होम ट्रीटमेंट को कवर करता है. कोरोना रक्षक एक बेनिफिट पॉलिसी है, जो अस्पताल के बिलों को रिम्बर्स नहीं करती है. यह पॉजिटिव डायग्नोज पर बीमित रकम के 100% के बराबर एकमुश्त रकम का भुगतान करती है.

क्लेम में इजाफा

पॉलिसी होल्डर और ब्रोकर्स द्वारा पहले शिकायत की गई थी कि कई इंश्योरेंस कंपनियों ने नई पॉलिसियों को रिन्यू करने और जारी करने से इनकार कर दिया. ऐसा इसलिए था, क्योंकि कोविड -19 की दूसरी लहर के दौरान इंश्योरेंस कंपनियों ने क्लेम में भारी वृद्धि दर्ज की, जिसमें कोविड-स्पेसिफिक पॉलिसियां भी शामिल थीं. इस वित्तीय वर्ष के पहले तीन महीनों में क्लेम पिछले पूरे साल के टोटल क्लेम से ज्यादा थे.

इन पॉलिसी के लिए प्रीमियम रेट कोविड -19 की पहली लहर के दौरान निर्धारित किए गए थे, जब रिपोर्ट किए गए मामलों की संख्या बहुत कम थी. हालांकि, दूसरी लहर के दौरान बड़ी संख्या में क्लेम के कारण, इंश्योरेंस कंपनियों ने पिछले साल चार्ज किए गए प्रीमियम को सही करने की जरूरत महसूस की है. हालांकि, रेगुलेटर ने अभी तक प्रीमियम रेट पर कोई निर्देश जारी नहीं किया है, जो यह दर्शाता है कि प्रीमियम दरें समान बनी रहेंगी.

क्या आपको कोविड-स्पेसिफिक पॉलिसी खरीदनी चाहिए?

सुरक्षा के पहले स्तर के तौर पर हमेशा एक बेसिक हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदनी चाहिए. यह बहुत वाइड कवरेज देती है क्योंकि यह अन्य बीमारियों और महामारी के लिए अस्पताल में भर्ती होने के खर्च को भी कवर करती है. एक व्यापक पॉलिसी खरीदने के बाद, कोई व्यक्ति कोरोना कवच या कोरोना रक्षक पॉलिसी के साथ दूसरे स्तर की सुरक्षा के लिए जा सकता है, क्योंकि ये कोविड -19 के ट्रीटमेंट के लिए व्यापक (एक्सटेंसिव) कवरेज ऑफर करती हैं.

हमें फॉलो करें

(मार्केट अपडेट और जाने अमीर कैसे बने सिर्फ आपके Money9 हिंदी पर)

लेटेस्ट वीडियो

Money9 विशेष