फेस्टिव सीजन में घर जाने में नहीं होगी समस्या, रेलवे चला रहा 100 स्पेशल ट्रेनें

ट्रेन सेवा के किसी भी प्रकार के व्यवधान को दूर करने के लिए प्राथमिकता के आधार पर कर्मचारियों को विभिन्न वर्गों में तैनात किया जाता है.

  • PBNS
  • Updated On - October 27, 2021 / 02:03 PM IST
फेस्टिव सीजन में घर जाने में नहीं होगी समस्या, रेलवे चला रहा 100 स्पेशल ट्रेनें
यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए प्रमुख स्टेशनों पर अतिरिक्त आरपीएफ कर्मियों को तैनात किया गया है. PC: Pixabay

रेल यात्रियों की सुविधा के लिए और इस त्योहारी सीजन में यात्रियों की अतिरिक्त भीड़ को कम करने के लिए भारतीय रेलवे इस साल दुर्गा पूजा से छठ पूजा तक 110 विशेष ट्रेनें कुल 668 फेरे लगाएंगी. रेल मंत्रालय ने बीते मंगलवार को कहा कि इस त्योहारी भीड़ के दौरान बर्थ की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए नियमित ट्रेनों के कोचों में भी वृद्धि की जा रही है. रेलवे त्योहारों के सीजन में अपने परिवारों के साथ त्योहार मनाने के लिए अपने मूल स्थानों की यात्रा करने वाले यात्रियों के लिए विशेष व्यवस्था सुनिश्चित करके यात्रियों के साथ उत्सव की खुशी साझा कर रहा है.

इस विषय में जानकारी देते हुए रेलवे ने कहा है कि कोरोना के मद्देनजर अनारक्षित डिब्बों में यात्रियों के व्यवस्थित प्रवेश के लिए आरपीएफ कर्मचारियों की देखरेख में टर्मिनस स्टेशनों पर कतार बनाकर भीड़ नियंत्रण के उपाय सुनिश्चित किए जा रहे हैं. यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए प्रमुख स्टेशनों पर अतिरिक्त आरपीएफ कर्मियों को तैनात किया गया है. ट्रेनों के सुचारू संचालन को सुनिश्चित करने के लिए प्रमुख स्टेशनों पर आपातकालीन ड्यूटी पर अधिकारियों को तैनात किया गया है. ट्रेन सेवा के किसी भी प्रकार के व्यवधान को दूर करने के लिए प्राथमिकता के आधार पर कर्मचारियों को विभिन्न वर्गों में तैनात किया जाता है.

रेलवे ने प्लेटफॉर्म नंबर वाली ट्रेनों के आगमन/प्रस्थान की लगातार और समय पर घोषणा के लिए उपाय किए गए हैं. “मे आई हेल्प यू” बूथ महत्वपूर्ण स्टेशनों पर चालू रखे जाते हैं, जहां यात्रियों की उचित सहायता और मार्गदर्शन के लिए आरपीएफ कार्मिक और टीटीई की प्रतिनियुक्ति की जाती है. इसके अलावा प्रमुख स्टेशनों पर चिकित्सा दल भी कॉल पर उपलब्ध हैं और पैरामेडिकल टीम के साथ एम्बुलेंस भी उपलब्ध है.

सुरक्षा और सतर्कता विभाग के कर्मचारियों द्वारा किसी भी तरह के कदाचार- जैसे सीटों को मोड़ना, ओवर चार्ज करना और दलाली गतिविधि आदि पर नजर रखी जाती है और कड़ी निगरानी की जाती है. अंचल मुख्यालय द्वारा प्रतीक्षालय, विश्राम कक्ष, विशेष रूप से यात्री सुविधा क्षेत्र और सामान्य रूप से स्टेशनों पर साफ-सफाई बनाए रखने के निर्देश दिए गए हैं.

पर्सनल फाइनेंस पर ताजा अपडेट के लिए करें।