Tata Sons द्वारा Air India को खरीदे जाने की खबरें गलत, सरकार ने किया खंडन

दीपम सचिव ने कहा कि जब भी सरकार किसी वित्तीय बोली को अप्रूव करेगी, तो इसकी सूचना मीडिया को दी जाएगी.

Tata Sons द्वारा Air India को खरीदे जाने की खबरें गलत, सरकार ने किया खंडन
एयर इंडिया के विनिवेश को लेकर भारत सरकार द्वारा वित्तीय बोलियों को अप्रूवल देने की खबरें गलत हैं.

Air India: एयर इंडिया की बिक्री को लेकर अभी कोई अंतिम निर्णय नहीं हुआ है. सुबह से इस तरह की खबरें आ रही थीं कि टाटा संस (Tata Sons) ने एयर इंडिया के लिए सबसे अधिक बोली लगाई है और मंत्रियों के पैनल ने टाटा संस के प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया है. अब सरकार ने टाटा संस द्वारा एयर इंडिया को खरीदे जाने की खबर का खंडन किया है. दीपम (DIPAM) सचिव ने ट्वीट कर यह खंडन किया है.

दीपम सचिव ने अपने ट्वीट में कहा कि एयर इंडिया के विनिवेश को लेकर भारत सरकार द्वारा वित्तीय बोलियों को अप्रूवल देने की खबरें गलत हैं. उन्होंने कहा कि जब भी सरकार किसी वित्तीय बोली को अप्रूव करेगी, तो इसकी सूचना मीडिया को दी जाएगी.

ट्वीट में कहा गया, “एआई विनिवेश मामले में भारत सरकार द्वारा वित्तीय बोलियों के अनुमोदन का संकेत देने वाली मीडिया रिपोर्ट गलत हैं. सरकार के निर्णय के बारे में मीडिया को सूचित किया जाएगा, जब यह लिया जाएगा.” दीपम सचिव के इस ट्वीट को वित्त मंत्रालय, वित्त मंत्री के ऑफिस, वित्त मंत्री, पीएमओ और नीति आयोग ने भी रीट्वीट किया है.

दरअसल शुक्रवार सुबह कुछ न्यूज एजेंसियों द्वारा यह खबर चलाई गई कि सरकार के मालिकाना हक वाली एयरलाइन एयर इंडिया की बोली टाट संस ने जीत ली है. हालांकि, एयर इंडिया की विनिवेश प्रक्रिया अंतिम चरण में चल रही है. सरकार को बुधवार को कई वित्तीय बोलियां प्राप्त हुई थीं.

वित्त वर्ष 2021-22 के बजट भाषण के दौरान देश की वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा था कि सभी प्रस्तावित निजीकरण की प्रक्रिया वित्त वर्ष के अंत तक पूरी हो जाएगी. इसमें एयर इंडिया का रणनीतिक विनिवेश भी शामिल है.

हमें फॉलो करें

(मार्केट अपडेट और जाने अमीर कैसे बने सिर्फ आपके Money9 हिंदी पर)

लेटेस्ट वीडियो

Money9 विशेष