Delhi Night Curfew: दिल्ली में ई-पास के लिए 1.19 लाख लोगों ने किया अप्लाई, 87 हजार के आवेदन खारिज

Delhi Night Curfew: दिल्ली में रात्रि कर्फ्यू के दौरान ई-पास के लिए अधिकारियों को 1.19 लाख आवेदन प्राप्त हुए.

Delhi Night Curfew: दिल्ली में ई-पास के लिए 1.19 लाख लोगों ने किया अप्लाई, 87 हजार के आवेदन खारिज

Delhi Night Curfew: दिल्ली में रात्रि कर्फ्यू के दौरान यात्रा की अनुमति के वास्ते ई-पास के लिए जिलों के अधिकारियों को 1.19 लाख आवेदन प्राप्त हुए जिसमें से लगभग 87,000 को खारिज कर दिया गया. अधिकारियों ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि ज्यादातर आवेदन इसलिए खारिज किए गए क्योंकि वह कर्फ्यू से छूट पाने वाली श्रेणी में नहीं आते थे या उनमें दी गई सूचना में त्रुटि थी.

आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार लंबित आवेदनों की संख्या बुधवार को 30,000 से ज्यादा थी जो घटकर 20,055 रह गई है। कुल 1,19,369 आवेदन प्राप्त हुए जिसमें से केवल 12,068 स्वीकार किए गए.

इधर दिल्ली में कोविड-19 के मामलों में वृद्धि के बीच अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) ने बृहस्पतिवार को निर्णय लिया कि 10 अप्रैल से केवल बेहद जरूरी सर्जरी ही की जाएगी. सभी केंद्रों और विभागों के प्रमुखों को भेजे गए पत्र में एम्स के अधीक्षक डॉ डी. के. शर्मा ने कहा कि एम्स के निदेशक की अध्यक्षता में बृहस्पतिवार को रामलिंगस्वामी बोर्ड कक्ष में बैठक हुई. शर्मा ने बताया कि बैठक में निर्णय लिया गया कि कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए ऑपरेशन थिएटर की सेवाओं को कम किया जाएगा.

छत्तीसगढ़ में 10,652 नए मामले सामने आए
छत्तीसगढ़ में पिछले 24 घंटों के दौरान 10,652 नए लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई है. राज्य में इस वायरस से संक्रमित हुए लोगों की संख्या बढ़कर 4,07,231 हो गई है. राज्य में यह पहली बार है जब एक ही दिन में इतनी बड़ी संख्या में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले आए हैं.

राज्य में बृहस्पतिवार को 114 लोगों को संक्रमण मुक्त होने के बाद अस्पतालों से छुट्टी दी गई है, वहीं 621 लोगों ने गृह पृथक-वास पूर्ण किया है. राज्य में कोरोना वायरस संक्रमित 94 मरीजों की मौत हुई है। इनमें से 24 घंटे के दौरान 72 लोगों की तथा पिछले दिनों 22 लोगों की मौत हुई है.

राज्य के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बृहस्पतिवार को बताया कि आज संक्रमण के 10,652 मामले आए हैं। इनमें रायपुर जिले से 2330, दुर्ग से 2132, राजनांदगांव से 1047, बालोद से 313, बेमेतरा से 364, कबीरधाम से 286, धमतरी से 363, बलौदाबाजार से 601, महासमुंद से 517, गरियाबंद से 111, बिलासपुर से 638, रायगढ़ से 240, कोरबा से 343, जांजगीर-चांपा से 287, मुंगेली से 141, गौरेला-पेंड्रा-मरवाही से 85, सरगुजा से 153, कोरिया से 113, सूरजपुर से 117, बलरामपुर से 51, जशपुर से 151, बस्तर से 64, कोंडागांव से 37, दंतेवाड़ा से 26, सुकमा से 10, कांकेर से 118, नारायणपुर से दो, बीजापुर से नौ और अन्य राज्य से तीन मामले हैं.

अधिकारियों ने बताया कि छत्तीसगढ़ में अब तक 4,07,231 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। 3,34,543 मरीज इलाज के बाद संक्रमण मुक्त हुए हैं, राज्य में 68,125 मरीज उपचाराधीन हैं. राज्य में वायरस से संक्रमित 4563 लोगों की मौत हुई है.

राज्य के रायपुर जिले में सबसे अधिक 82,059 लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि की गई है. जिले में कोरोना वायरस संक्रमित 1076 लोगों की मौत हुई है.

राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए राजनांदगांव जिला प्रशासन ने जिले में 10 अप्रैल से 19 अप्रैल तक लॉकडाउन की घोषणा की है. इससे पहले राज्य के रायपुर और दुर्ग जिले में भी लॉकडाउन की घोषणा की गई थी.

पर्सनल फाइनेंस पर ताजा अपडेट के लिए करें।