सिर्फ SIP नहीं SIP टॉप-अप से मिलता है कई गुना रिटर्न, जल्द ही मिल जाएगी वित्तीय आजादी

SIP Top-Up vs Simple SIP: एक बार जब आप SIP टॉप-अप सेट कर लेते हैं, तो आप सामान्य SIP पर वापस नहीं जा सकते.

  • Vijay Parmar
  • Publish Date - October 20, 2021 / 11:42 AM IST
सिर्फ SIP नहीं SIP टॉप-अप से मिलता है कई गुना रिटर्न, जल्द ही मिल जाएगी वित्तीय आजादी
Pixabay - अपने दीर्घकालिक वित्तीय लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए SIP टॉप-अप एक अच्छा निवेश विकल्प है.

SIP Top-up: जैसे सिस्टेमैटिक इंवेस्टमेंट प्लान (SIP) के जरिए आप हर महिने एक निश्चित राशि निवेश करते है, वैसे ही SIP टॉप-अप या स्टेप-अप SIP के जरिए आप निवेश की अमाउंट में निर्धारित समय के बाद इजाफा करते है. इजाफे की रकम पर्सटेंज या अमाउंट के हिसाब से तय कर सकते है. अर्थात्, यदि आप 5,000 रूपये की SIP कर रहे है, और उसमें हर साल 5% इजाफा करना चाहते है, तो अगले साल से आपकी SIP अमाउंट 5,250 रूपये हो जाएगी, और उसके बाद के वर्ष में 5,500 रूपये हो जाएगी.

SIP बनाम SIP टॉप-अप

मान लीजिए, आप हर महिने 30,000 रूपये की SIP करते हैं, और 10 साल तक निवेश करने के बाद सालाना 12.5 फीसदी रिटर्न (क्योंकि निफ्टी 500 TRI का पिछले 10 साल का एवरेज रोलिंग रिटर्न 15% रहा है) के हिसाब से आपको 36 लाख रूपये के निवेश प 35,81,440 रूपये का रिटर्न मिलता हैं. यानि, निवेश और रिटर्न से कुल 71,81,440 रूपये का फंड जुटा पाएंगे.
यदि आप SIP टॉप-अप करते हैं और 30,000 रूपये से शुरूआत करने के साथ, हर साल 10 फीसदी निवेश बढाते है, तो 10 साल बाद आपका निवेश 52.20 लाख रूपये होगा और 12.5% के हिसाब से 44,74,831 रूपये का रिटर्न मिलेगा. अर्थात् निवेश में हर साल 10 फीसदी इजाफा करने से आप कुल 96,94,831 रूपये की राशि इकट्ठा कर पाएंगे.
दोनों की तुलना करने से मालूम पडता है कि, SIP में हर महिने 10% इजाफा करने से आपको 35% ज्यादा यानि राशि (96,94,831 – 71,81,440 = 25,13,391) मिलेगी.

SIP टॉप-अप के लाभ

– यह आपकी आय में वृद्धि के साथ आपकी बचत को स्वतः ही बढ़ा देता है.
– आपको बड़े वित्तीय लक्ष्यों को प्राप्त करने में मदद करता है.
– यह आपके लक्ष्यों को तेजी से ट्रैक कर सकता है.
– अतिरिक्त धन सृजन.

– SIP टॉप-अप युवा निवेशकों के लिए विशेष रूप से फायदेमंद होते हैं, जो एक छोटी SIP किस्त से शुरू कर सकते हैं और इसे अपने कामकाजी करियर में बढ़ा सकते हैं.

– अपने दीर्घकालिक वित्तीय लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए SIP टॉप-अप एक अच्छा निवेश विकल्प है. SIP टॉप-अप के बारे में और यह आपको कैसे लाभ पहुंचा सकता है, इसके बारे में अधिक जानने के लिए आपको अपने वित्तीय सलाहकार से परामर्श लेना चाहिए.

SIP टॉप-अप के लिए ध्यान रखने योग्य बातेंः

हमने देखा कि SIP टॉप-अप में काफी फायदे हैं. SIP टॉप-अप चुनते समय आपको निम्नलिखित बातों का ध्यान रखना चाहिए: –

– सिर्फ SIP की तरह, SIP टॉप-अप का उपयोग भी अनुशासित निवेश के लिए किया जाता हैं. आपको यह सुनिश्चित करना चाहिए कि आपके मासिक SIP ऑटो डेबिट के लिए आपके बैंक खातों में पर्याप्त राशि है.

– एक बार जब आप SIP टॉप-अप सेट कर लेते हैं, तो आप सामान्य SIP पर वापस नहीं जा सकते. आपको SIP को रद्द करना होगा और एक नई शुरुआत करनी होगी. इसलिए, आपको एक उचित टॉप-अप राशि या प्रतिशत का विकल्प चुनना चाहिए, जो आपको लगता है कि आप लंबे निवेश कार्यकाल में बनाए रख सकते हैं.

– आप राशि या महीने और वर्ष के संदर्भ में टॉप-अप कैप करने के लिए ऊपरी सीमा निर्दिष्ट कर सकते हैं. टॉपिंग-अप SIP निर्धारित सीमा तक पहुँचने पर बंद हो जाएगा. हालांकि, SIP उस अवधि के लिए जारी रहेगा, जिसके लिए निवेशक ने किश्त के साथ सीमित स्तर पर साइन अप किया है.

– कुछ सलाहकार आपकी लागतों को औसत करने के लिए अत्यधिक अस्थिर बाजारों में आपके SIP को SIP टॉप-अप में बदलने की सलाह दे सकते हैं, लेकिन यह सही तरीका नहीं है. सिम्पल SIP की तरह, SIP टॉप-अप को आपके वित्तीय लक्ष्यों से जोड़ा जाना चाहिए. डीप करेक्शन का फायदा उठाने के लिए आप एकमुश्त या शॉर्ट-टर्म STPs में निवेश कर सकते हैं.

हमें फॉलो करें

(मार्केट अपडेट और जाने अमीर कैसे बने सिर्फ आपके Money9 हिंदी पर)

लेटेस्ट वीडियो

Money9 विशेष