हर महीने 5 हजार के निवेश से बुढ़ापे में करें 20 हजार की पेंशन का इंतजाम, यहां करना होगा निवेश

एनपीएस से हर महीने महज 5 हजार के निवेश से बुढ़ापे में 20 हजार की पेंशन का इंतजाम कर सकते हैं.

  • Paurav Joshi
  • Publish Date - October 7, 2021 / 12:32 PM IST
हर महीने 5 हजार के निवेश से बुढ़ापे में करें 20 हजार की पेंशन का इंतजाम, यहां करना होगा निवेश
NPS पर इनकम टैक्स की धारा 80 सीसीडी (1), 80 सीसीडी (1B) और 80 सीसीडी (2) के तहत टैक्स छूट का लाभ भी मिलता है.

आम तौर पर लोग अपने भविष्य को लेकर काफी तैयारी करते हैं, जिससे रिटायरमेंट के बाद उन्हें कोई आर्थिक परेशानी ना हो. रिटायरमेंट को लेकर केंद्र सरकार की कई स्कीम हैं. इनमें से एक है NPS, जो केंद्र की पेंशन की काफी पॉपुलर स्कीम है. इसमें इन्वेस्ट करनेवाले को टैक्स सेविंग और रिटायरमेंट प्लानिंग दोनों का फायदा मिलता है. NPS से हर महीने महज 5 हजार के निवेश से बुढ़ापे में 20 हजार की पेंशन का इंतजाम कर सकते हैं. आइए इस योजना के बारे में जानते हैं और फिर यह जानते हैं कि इसमें अंशदान किस तरह किया जा सकता है.

क्या है राष्ट्रीय पेंशन योजना

सरकार द्वारा लोगों को उनके रिटायरमेंट के बाद पेंशन का फायदा देने के लिए राष्ट्रीय पेंशन योजना National Pension Scheme की शुरुआत की गई थी. NPS के तहत दो तरह के खाते आते हैं. NPS टियर- I खाता लॉक-इन-पीरियड के साथ है और यह प्राइमरी अकाउंट है. NPS टियर- II में कोई लॉक-इन अवधि नहीं है और यह ऑप्शनल है. यह ग्राहकों को टैक्स-बचत का बेनिफिट भी देता है.

दो लाख रुपये तक की छूट का फायदा

मालूम हो कि NPS पर इनकम टैक्स की धारा 80 सीसीडी (1), 80 सीसीडी (1B) और 80 सीसीडी (2) के तहत टैक्स छूट का लाभ भी मिलता है. योजना क तहत सेक्शन 80सी यानी 1.50 लाख रुपये से अलग 50,000 रुपये की और छूट ले सकते हैं. यानी योजना में निवेश कर आप दो लाख रुपये की छूट का फायदा उठा सकते हैं. वहीं, कोई व्यक्ति अपनी NPS में अपनी सैलरी के कॉन्ट्रीब्यूशन का 20 फीसदी तक टैक्स डिडक्शन के लिए क्लेम कर सकता है.

खास बात ये है कि इसके तहत मिलने वाले रिटर्न को टैक्स से छूट मिलती है. निवेशक के रिटायर होने या 60 साल पूरा होते ही यह अकाउंट मैच्योर हो जाता है. मैच्योरिटी के बाद खाते में जमा हुई रकम का 60 फीसदी तक निकाल सकते हैं. जबकि बाकी 40 फीसदी का इस्तेमाल एन्यूटी प्लान खरीदने के लिए किया जाता है.

NPS से क्या है फायदा, ऐसे समझें

मान लीजिए कि आपने 30 साल की उम्र से एनपीएस में योगदान शुरू किया और हर महीने 60 साल की उम्र कर इसमें हर महीने 5 हजार रुपये का योगदान करते हैं. इस पर कैलकुलेशन करते हैं कि आपको क्या मिलेगा.

NPS में मंथली निवेश: 5000 रुपये (60,000 रु सालाना)
30 साल में कुल योगदान: 18 लाख रुपये
निवेश पर अनुमानित रिटर्न: 8%
टैक्स सेविंग: 5.4 लाख
मैच्योरिटी पर कुल रकम: 74.21 लाख रुपये
एन्युटी परचेज: 40%
अनुमानित एन्युटी रेट: 8%
अधिकतम टैक्स फ्री विद्ड्रॉल: मैच्योरिटी अमाउंट का 60%
60 की उम्र पर पेंशन: 19,790 रुपये महीना
एकमुश्त कैश: 44.52 लाख

सालाना आधार पर 24.06 फीसदी बढ़ी अंशधारकों की संख्या

पेंशन फंड रेग्युलेटर एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी (PFRDA) के अनुसार, ‘एनपीएस के अंतर्गत अंशधारकों की संख्या इस साल अगस्त में सालाना आधार पर 24.06 फीसदी बढ़ी है और 453.41 लाख हो गई है. वहीं, अगस्त 2020 में यह आंकड़ा 365.47 लाख था.’

हमें फॉलो करें

(मार्केट अपडेट और जाने अमीर कैसे बने सिर्फ आपके Money9 हिंदी पर)

लेटेस्ट वीडियो

Money9 विशेष