रिकवरी की राह पर बढ़ा कारोबार, HDFC और ICICI ने निकाली बंपर भर्तियां

Vacancy: त्योहारों के मौसम में कारोबार दोबारा सामान्य होने पर वित्तीय कंपनियों को दोबारा काम में तेजी की उम्मीद नजर आने लगी है.

  • Money9 Hindi
  • Publish Date - October 13, 2021 / 03:29 PM IST
रिकवरी की राह पर बढ़ा कारोबार, HDFC और ICICI ने निकाली बंपर भर्तियां
Pixabay - कोविड की पहली और दूसरी लहर के बाद इस तरह की फाइनेंस कंपनियों ने या तो काम रोक दिया था या उनकी गति धीमी पड़ गई थी.

Vacancy: देश की अर्थव्यवस्था जैसे जैसे पटरी पर आ रही है, वैसे वैसे व्यापार वृद्धि की उम्मीदें भी बढ़ने लगी हैं. जिसके मद्देनजर बैंक और गैर बैंकिंग फाइनेंस कंपनियों ने पिछले साल की तुलना में इस साल भर्तियों में इजाफा किया है. ये वृद्धि एक साल की तुलना में 30 से 35 प्रतिशत तक ज्यादा मानी जा रही हैं. खासतौर से बिजनेस के तकनीकी पक्ष को मजबूत करने के उद्देश्य से हायरिंग तेज की जा रही है.

इन बैंकों ने शुरू की हायरिंग

इकोनॉमिक्स टाइम्स के अनुसार प्राइवेट कर्जदाता बैंक HDFC ने अगले 24 महीने यानि दो साल में 2 लाख गांवों तक पहुंचने का लक्ष्य रखा है.

इस लक्ष्य को पूरा करने के लिए अगले छह महीने में ढाई हजार से ज्यादा नियुक्तियां करने का लक्ष्य है. श्रीराम समूह भी पांच हजार नए लोग हायर करने की दिशा में काम कर रहा है.

ICICI होम फाइनेंस इस साल के अंत तक 6 सौ नए कर्मचारी भर्ती करना चाहता है. कोटक महिंद्रा ने भी कोविड के बाद नए सिरे से हायरिंग शुरू कर दी है.

श्रीराम समूह का नॉर्थ और साउथ इंडिया के 3-4 टियर शहरों पर फोकस कर रहा है. जहां उसे नए लोग भर्ती करना है. श्री राम हाउसिंग फाइनेंस मुख्य रूप से आंध्र प्रदेश और तेलंगाना पर ज्यादा ध्यान दे रहा है.

श्रीराम सिटी यूनियन फाइनेंस भी गोल्ड लोन कारोबार के विस्तार पर विचार कर रहा है.

श्रीराम सिटी यूनियन फाइनेंस के प्रबंध निदेशक वाई एस चक्रवर्ती ने कहा कि कोविड के बाद दोबारा सामान्य हालात होने के बाद हमारा समूह आगे बढ़ने की योजनाओं पर विचार शुरू कर चुका है.

हम बिक्री, ऋण, संग्रह और सपोर्ट- इन सारे आयामों को ध्यान में रखते हुए समूह की मजबूती की दिशा में काम कर रहे हैं. श्री राम लाइफ इंश्योरेंस में हम गांवों  के लोगों तक पहुंच बढ़ाने पर काम कर रहे हैं.

गांवों में श्री राम लाइफ इंश्योरेंस   की उपस्थिति बढ़ाने का मॉडल तैयार हो रहा है.”

कारोबार में तेजी से उम्मीद

कोविड की पहली और दूसरी लहर के बाद इस तरह की फाइनेंस कंपनियों ने या तो काम रोक दिया था या उनकी गति धीमी पड़ गई थी.

त्योहारों के मौसम में कारोबार दोबारा सामान्य होने पर वित्तीय कंपनियों को दोबारा काम में तेजी की उम्मीद नजर आने लगी है. यही वजह कि फिर से फुल टाइम एम्पलाइज बढ़ाने पर जोर दिया जा रहा है.

कोटक महिंद्रा के चीफ ह्यूमन रिसोर्स ऑफिसर सुखजीत पसरीजा कहते हैं कि नई हायरिंग करते हुए उनका ध्यान नए दौर के साथ चलने वाली और डिजिटल जरूरतों को समझने वाले टैलेंट पर हैं. जिनकी स्किल्स को भी आंका जाएगा.

ICICI होम फाइनेंस ने बिक्री और क्रेडिट को मजबूत करने के लिए भर्ती प्रक्रिया शुरू करने की योजना तैयार की है. ऑल इंडिया से इसके लिए लोग हायर किए जाएंगे. नई भर्तियों के जरिए फाइनेंस कंपनी किफायती घरों के लिए बढ़ती मांगों पर ज्यादा ध्यान देगी.

कंपनी के एमडी अनिरुद्ध कमानी के मुताबिक हम अपने मौजूदा 530 स्थानों में किफायती हाउसिंग सेगमेंट में विकास के कई अवसर देख रहे हैं.

इसके लिए बड़े पैमाने पर देशभर में शुरू हुआ हमारा भर्ती अभियान मददगार साबित होगा. कोशिश है कि युवाओं को स्थानीय स्तर पर ही रोजगार मिल सके और वे काम पर अपना ध्यान केंद्रित कर सकें.

हमें फॉलो करें

(मार्केट अपडेट और जाने अमीर कैसे बने सिर्फ आपके Money9 हिंदी पर)

लेटेस्ट वीडियो

Money9 विशेष