इस बैंक में है अकाउंट तो इस तरह ऑनलाइन अप्‍लाई कर सकते हैं चेकबुक

बैंक आपके अकाउंट में रजिस्टर्ड एड्रेस पर ही चेकबुक भेजता है, चेकबुक आपके घर नहीं पहुंचती है तो दूसरे तरीकों से भी चेकबुक प्राप्त कर सकते हैं. 

इस बैंक में है अकाउंट तो इस तरह ऑनलाइन अप्‍लाई कर सकते हैं चेकबुक
image: pixabayए ये पहली बार नहीं है कि एसबीआई पहली बार किसी सेवा को बंद कर रहा है. इससे पहले भी बैंक ने कई बार इन सेवाओं को बंद किया गया था.

अब आप घर बैठे ऑनलाइन भी चेकबुक अप्‍लाई कर सकते हैं. इसके लिए आपको बैंक जाने की जररूत नहीं होगी. स्‍टेट बैंक ऑफ इंडिया की ओर से ये सुविधा दी जा रही है. अगर आपका अकाउंट स्‍टेट बैंक में है तो आप भी इसका फायदा उठा सकते हैं. बैंक आपके अकाउंट में रजिस्टर्ड एड्रेस पर ही चेकबुक भेजता है, लेकिन किसी कारण से चेकबुक आपके घर नहीं पहुंचती है तो दूसरे तरीकों से भी चेकबुक प्राप्त कर सकते हैं.

हाल ही में एक ग्राहक ने भी ट्विटर अकाउंट के जरिए शिकायत की थी कि उन्हें चेकबुक के लिए ऑर्डर किए हुए टाइम हो गया है और अभी तक उन्हें चेकबुक नहीं मिली है. इसके बाद एसबीआई ने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट के जरिए जवाब दिया और बताया कि चेकबुक को लेकर बैंक के क्या नियम हैं और किस तरह से बैंक की नई चेकबुक हासिल की जा सकती है.

इस तरह मिलेगी चेकबुक

एसबीआई बैंक ने बताया, ‘ध्यान रखें कि इंडिया पोस्ट के जरिए स्लिप पर लिखे एड्रेस के हिसाब से चेक बुक डिलिवर की जाती है और डिस्पैच के वक्त consignment number के साथ ग्राहक को इसका मैसेज भी प्राप्त होता है. ज्योग्राफिकल कंडीशन के आधार पर डिलिवरी निर्भर करती है और सामान तौर पर चेकबुक डिलिवर होने में 7 दिन लग जाते हैं. ऐसे में अपने एरिया पोस्ट ऑफिस से संपर्क करें और अगर आपकी चेकबुक रिटर्न हो जाती है तो यह आपके होम ब्रांच में पहुंच जाएगी, जहां आप अपने केवाईसी डॉक्यूमेंट और पासबुक जमा करके इसे प्राप्त कर सकते हैं.’

सालभर में मिलते हैं इतने चेक


बता दें कि एसबीआई अपने ग्राहकों को एक साल के सीमित चेक देता है. अगर आप इससे ज्यादा चेक का इस्तेमाल करते हैं तो आपको नई चेक बुक के लिए चार्ज देना होता है. अभी एसबीआई ग्राहकों को सबसे कम चेक दे रहा है, इसलिए एसबीआई के ग्राहकों को ज्यादा ध्यान देने की आवश्यकता है. एसबीआई की ओर से बैंक को दिए जाने वाले चेक बुक की संख्या के आधार पर बैंक ग्राहकों को हर महीने का सिर्फ 0.83 चेक देता है यानी पूरा एक चेक भी नहीं. अगर बैंक से नई चेक बुक लेना चाहते हैं तो आपको 10 चेक की चेकबुक के लिए 40 रुपये और जीएसटी का भुगतान करना होगा. वहीं. 40 चेक की चेकबुक लेने के लिए 75 रुपये फीस प्लस जीएसटी का भुगतान करना होगा.

दरअसर, बैंक ग्राहकों को सालभर के सिर्फ 10 चेक देता है और उसके हिसाब से ही ग्राहकों को चेक देना चाहिए. अगर आपको ज्यादा चेक की आवश्यकता है तो फीस जमा करके नई चेकबुक लेनी होगी.

पर्सनल फाइनेंस पर ताजा अपडेट के लिए करें।