ATM ट्रांजैक्शन पूरा नहींं हो पाने पर भी कट गए पैसे? यहां जानें रिकवरी की प्रक्रिया

ट्रांजैक्शन फेल होने पर ग्राहक को कोई शिकायत दर्ज नहीं करानी होती है. RBI के नियमों के मुताबिक, बैंकों को खुद 5 दिन में पैसे लौटाने होते हैं

1/8
how you can recover failed atm transaction costs
ATM से पैसे निकालने में दिक्कतों का सामना लगभग हम सभी ने किया होगा. इसे आम तौर पर टेक्निकल ग्लिच कहा जाता है. हालांकि, कई बार ऐसा भी होता है कि फिजिकल ग्लिच के बावजूद अकाउंट से पैसे कट जाते हैं और हाथ एक रुपया नहीं आता.
2/8
how you can recover failed atm transaction costs
भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने स्पष्ट किया है कि गलती से डेबिट हुए पैसों को बैंकों को ग्राहक के खाते में पांच वर्किंग डे के अंदर क्रेडिट करना होगा.
3/8
how you can recover failed atm transaction costs
RBI के इस नियम से कई लोग अनजान होंगे, मगर बैंक पांच दिन में अगर ये पैसे नहीं वापस डाल पाया तो उसके बाद उसपर प्रति दिन देरी पर 100 रुपये का जुर्माना लगेगा.
4/8
how you can recover failed atm transaction costs
टेक्निकल ग्लिच के बारे में तो आप कुछ नहीं कर सकते. लेकिन जब भी ट्रांजैक्शन पूरा नहीं हो पाए, तो तुरंत विदड्रॉल के नोटिफिकेशन को चेक करना चाहिए. बैंक बैलेंस का तुरंत पता लगाएं और सुनिश्चित करें कि कोई भी पैसा डिडक्ट न हुआ हो.
5/8
how you can recover failed atm transaction costs
ट्रांजैक्शन फेल होने की स्थिति में ग्राहक को अपनी तरफ से कोई शिकायत दर्ज नहीं करानी होती है. RBI के नियमों के मुताबिक, बैंकों को खुद ही तुरंत इसपर काम करना होता है. यह प्रक्रिया डिफॉल्ट तरीके से होनी चाहिए.
6/8
how you can recover failed atm transaction costs
IMAGE: pixabay, यह OTP-आधारित ट्रांजैक्शन होता है, जिसमें सिक्योरिटी बहुत मजबूत होती है. इसमें फर्जीवाड़े को अंजाम देना बहुत ही कठिन होता है. इस सेवा में ग्राहक का मोबाइल नंबर बैंक में पंजीकृत होना चाहिए.
7/8
how you can recover failed atm transaction costs
हालांकि, ऐसा करना कोई जरूरी नहीं है. बल्कि, पैसा पांच दिनों में नहीं लौटा पाने की स्थिति में बैंक को मुआवजा भरना होगा, चाहे शिकायत दर्ज कराई गई हो या नहीं.
8/8
how you can recover failed atm transaction costs
अगर गलती से डिडक्ट हुई राशि आपके खाते में 30 दिन बाद भी नहीं क्रेडिट होती है, तो आप बैंक के शिकायत निवारण विभाग के वरिष्ठ अधिकारी के पास मामला पहुंचाकर इश्यू रिसॉल्व करा सकते हैं.

हमें फॉलो करें

(मार्केट अपडेट और जाने अमीर कैसे बने सिर्फ आपके Money9 हिंदी पर)

लेटेस्ट वीडियो

Money9 विशेष