SBI के 6.7% ब्याज दरों पर होम लोन देने के फैसले से हाउसिंग डिमांड बढ़ेगी: बिल्डर्स

रियल एस्टेट डेवलपर्स के अनुसार, होम लोन पर रियायती ब्याज दर प्रदान करने से रेसिडेंशियल प्रोपर्टी मार्केट में एक मजबूत उपभोक्ता मांग देखने को मिलेगी.

  • Money9 Hindi
  • Publish Date - September 17, 2021 / 09:31 PM IST
SBI के 6.7% ब्याज दरों पर होम लोन देने के फैसले से हाउसिंग डिमांड बढ़ेगी: बिल्डर्स
इसकी वजह से इस मांग में तेजी आई है. आवास क्षेत्र, डाटा सेंटर और गोदामों से जुड़ी परियोजनाओं में सबसे ज्‍यादा रुपये लगाए गए हैं

रियल एस्टेट डेवलपर्स और सलाहकारों के अनुसार, एसबीआई सहित विभिन्न बैंकों के होम लोन पर रियायती ब्याज दर प्रदान करने से त्योहारी सीजन के दौरान भारत के रेसिडेंशियल प्रोपर्टी मार्केट में एक मजबूत उपभोक्ता मांग देखने को मिल सकती है. उन्होंने यह भी आशा व्यक्त की कि अन्य सार्वजनिक और निजी बैंक जल्द ही होम लोन और प्रोसेसिंग फी पर ब्याज दरों को लेकर फेस्टिवल ऑफर्स की घोषणा करेंगे. गुरुवार को देश के सबसे बड़े लोन देने वाले बैंक भारतीय स्टेट (SBI) ने 6.70% की दर पर होम लोन देने की घोषणा की.

SBI जो ग्राहकों को ऑफर दे रहा है, वो इंडस्ट्री में अपनी तरह का पहला ऑफर है. इससे पहले ग्राहकों को 75 लाख रुपये तक के लोन के लिए 7.15% की दर से होम लोन मिल रहा था. इस ऑफर के तहत ग्राहकों को 45 bps का फायदा होगा. अगर 75 लाख रुपये के लोन को आधार बनाएं तो इससे सीधे 30 साल तक की अवधि पर 8 लाख रुपये का फायदा होगा.

एनारॉक समूह के अध्यक्ष अनुज पुरी ने कहा, “यह SBI द्वारा एक अत्यंत प्रतिस्पर्धी कदम है, और यह वस्तुतः उन सभी पिछली सीमाओं को नकारता है जो विशेष होम लोन ब्याज दरों पर लागू होती हैं. केवल बजट आवास पर ध्यान केंद्रित करने के बजाय, यह नई ब्याज दर वास्तव में लोगो के लिए है क्योंकि किसी भी बजट के खरीदारों को लाभ होगा.” पुरी ने SBI के फैसले को त्योहारी सीजन से पहले ‘उपयुक्त समय’ करार दिया.

उन्होंने कहा, “इस साल, हमें इस अवधि के दौरान हाउसिंग सेगमंट में उल्लेखनीय सुधार देखने की संभावना है. प्रोसेसिंग फीस और व्यवसाय से जुड़े ब्याज प्रीमियम की छूट बचत के अतिरिक्त स्तर हैं.”

पुरी को उम्मीद है कि अन्य बैंक प्रतिस्पर्धी बने रहने के लिए एसबीआई के नक्शेकदम पर चलेंगे.

हाउसिंग डॉट कॉम, मकान डॉट कॉम और प्रॉपटाइगर डॉट कॉम के ग्रुप सीएफओ विकास वाधवान ने कहा कि एसबीआई द्वारा होम लोन की ब्याज दरों में कमी से सेक्टर को और गति हासिल करने में मदद मिलेगी.

उन्होंने कहा, “कीमतें पहले से ही कम हैं और खरीदार थोड़ा और पैसा बचाने में सक्षम होंगे.”

इंडिया सोथबीज इंटरनेशनल रियल्टी के सीईओ अमित गोयल ने कहा कि देश के कुछ प्रमुख बैंकों द्वारा दरों में कटौती को लेकर तेजी से निर्णय लेना एक उत्प्रेरक का काम करेगी.

हमें फॉलो करें

(मार्केट अपडेट और जाने अमीर कैसे बने सिर्फ आपके Money9 हिंदी पर)

लेटेस्ट वीडियो

Money9 विशेष