20 और 30 साल के लिए 7% पर लोन लेने पर ब्याज में कितना पड़ता है फर्क, समझिए पूरा गणित

Home Loan Interest: होमलोन का टेन्योर सिर्फ इस वजह से न बढ़वाएं कि आपकी मंथली ईएमआई कम हो जाएगी. इससे आपको फौरी तौर पर तो राहत मिल सकती है.

  • Paurav Joshi
  • Publish Date - November 18, 2021 / 04:29 PM IST
20 और 30 साल के लिए 7% पर लोन लेने पर ब्याज में कितना पड़ता है फर्क, समझिए पूरा गणित

होम लोन (Home Loan) की ब्‍याज दरें इस समय अपने रिकॉर्ड निचले स्‍तर पर हैं. अधिकांश सरकारी और प्राइवेट सेक्‍टर के बैंक 7 फीसदी से कम ब्‍याज पर होम लोन (Home Loan) ऑफर कर रहे हैं. लेकिन लोन लेने के पहले जरूरी है कि इस बात की अच्छे से जांच पड़ताल कर लें कि कौन सा बैंक आपको किस ब्याज दर पर होमलोन उपलब्ध करवा रहा है. दूसरी जरूरी बात है कि होमलोन का टेन्योर सिर्फ इस वजह से न बढ़वाएं कि आपकी मंथली ईएमआई कम हो जाएगी. इससे आपको फौरी तौर पर तो राहत मिल सकती है, लेकिन लंबी अवधि में जब कैलकुलेशन करेंगे तो आपको इसमें लाखों रुपये का नुकसान दिखेगा.

10 साल टेन्‍योर बढ़ाने पर देनी होगी इतनी EMI – अगर आप 30 लाख रुपये का होम लोन लेते हैं और इस पर सरकारी और प्राइवेट बैंक की ओर से 7 फीसदी का ब्याज लिया जाता है. तो इस पर 10 साल के अंतर से EMI और ब्याज देनदारी पर कितना असर होगा.

लोन अवधि: 20 साल

ब्‍याज दर: 7% सालाना
EMI: 23,259
कुल टेन्‍योर में ब्‍याज: 25,82,153
कुल पेमेंट: 55,82,153

लोन टेन्‍योर: 30 साल

ब्‍याज दर: 7% सालाना
EMI: 19,959
कुल टेन्‍योर में ब्‍याज: 41,85,267
कुल पेमेंट: 71,85,267

लोन टेन्योर पर डिपेंड करता है एक्स्ट्रा अमाउंट

EMI का कितना हिस्सा प्रिंसिपल अमाउंट रीपेमेंट में जमा होगा और कितना हिस्सा इंट्रेस्ट रीपेमेंट में जमा होगा यह आपके लोन टेन्योर पर निर्भर करता है. ऐसे में अगर आप इंट्रेस्ट के रूप में कम भुगतान करना चाहते हैं तो लोन का टेन्योर कम से कम रखें, इससे ईएमआई जरूर बढ़ेगी लेकिन आपके सेविंग बहुत ज्यादा होगा.

या तो एक्स्ट्रा EMI चुकाएं या फिर EMI अमाउंट हर साल बढ़ाएं

अगर आपके लिए लोन टेन्योर को कम करना मुश्किल है, क्योंकि इससे ईएमआई का बोझ काफी बढ़ जाता है तो आपके पास दो ऑप्शन हैं, जिनका इस्तेमाल किया जा सकता है. पहला विकल्प ये है कि आप हर साल एक ईएमआई एक्स्ट्रा जमा करें. मतलब, 12 महीने में 13 ईएमआई जमा करें. दूसरा विकल्प ये है कि हर साल आप ईएमआई को 2 फीसदी से बढ़ाए. वक्त के साथ आपकी इनकम जैसे-जैसे बढ़ती जाती है, आप हर साल उस हिसाब से ईएमआई अमाउंट को बढ़ाते जाएं. इन दो ट्रिक की मदद से आप लाखों रुपये तक बचा सकते हैं.

हमें फॉलो करें

(मार्केट अपडेट और जाने अमीर कैसे बने सिर्फ आपके Money9 हिंदी पर)

लेटेस्ट वीडियो

Money9 विशेष