क्या क्रेडिट कार्ड पर लिखी ‘एक्सपायरी डेट’ के बाद बंद हो जाता है अकाउंट?

कार्ड एक्सपायर होने से पहले बैंक की तरफ से अपने आप नया कार्ड उसी पते पर भेज दिया जाता है जो पता खाता खोलते वक्त आपने दिया होगा.

  • Paurav Joshi
  • Publish Date - October 8, 2021 / 03:07 PM IST
क्या क्रेडिट कार्ड पर लिखी 'एक्सपायरी डेट' के बाद बंद हो जाता है अकाउंट?
क्या एक्सपायरेशन डेट तक किसी भी सूरत में कार्ड होल्डर को कार्ड इस्तेमाल करने की इजाजत मिल जाती है?

आपके क्रेडिट कार्ड पर 8 तरह के मार्क जरूर छपे होते हैं. इनमें क्रेडिट कार्ड के बैंक का नाम, क्रेडिट कार्ड किस टाइप का है, जैसे कि कैश रिवॉर्ड या कोरल आदि, ईवीएम चिप, क्रेडिट कार्ड का नंबर, कार्ड होल्डर का नाम, एक्सपायरेशन डेट, डेट ऑफ अकाउंट ओपनिंग, क्रेडिट कार्ड नेटवर्क शामिल हैं. क्या आपको पता है कि क्रेडिट कार्ड की एक्स्पायरी डेट का मतलब क्या होता है? हम आपको क्रेडिट कार्ड से जुड़ी जरूरी बातें बताने जा रहे हैं.

क्रेडिट कार्ड की एक्स्पायरी डेट

आमतौर पर लोग सोचते हैं कि एक्सपायरी डेट के बाद कार्ड बेकार हो जाता होगा या क्रेडिट कार्ड का अकाउंट ही बंद हो जाता होगा. जबकि एक्सपायरी डेट का मतलब होता है कि उस तारीख के बाद कार्ड नहीं चलेगा, लेकिन अगर ग्राहक चाहें तो उसी क्रेडिट कार्ड के अकाउंट नंबर पर दूसरा कार्ड जरूर इश्यू करवा सकते हैं. इसलिए एक्सपायरी डेट के पहले या उस तारीख तक नया कार्ड जरूर ले लेना चाहिए.

कार्ड एक्सपायर होने से पहले बैंक की तरफ से अपने आप नया कार्ड उसी पते पर भेज दिया जाता है जो पता खाता खोलते वक्त आपने दिया होगा. इस नए कार्ड पर नई एक्सपायरेशन डेट होगी और सीवीवी भी नया होगा. हो सकता है कि आपके नए क्रेडिट कार्ड पर नया अकाउंट नंबर भी हो.

कितने साल के लिए एक्सपायरेशन डेट

आपने एक बात गौर किया होगा. नए कार्ड होल्डर को एक्सपायरेशन डेट ज्यादा साल की नहीं मिलती. कार्ड होल्डर का अकाउंट नया हो तो 3-4 साल के लिए भी क्रेडिट कार्ड मिलता है. ऐसा इसलिए होता है क्योंकि बैंक कस्टमर को इस दरमियान आंकते हैं. वे कस्टमर की क्रेडिट हिस्ट्री, बिल पेमेंट के बारे में एनालाइज करते हैं और आगे कार्ड देने पर फैसला लेते हैं.

पहले भी बंद हो सकता है कार्ड

अब सवाल है कि क्या एक्सपायरेशन डेट तक किसी भी सूरत में कार्ड होल्डर को कार्ड इस्तेमाल करने की इजाजत मिल जाती है? ऐसा नहीं है. अगर कार्ड के जरिये कोई बड़ी गलती हो जाए, बैंक पर भारी चपत लगा दिया जाए तो बैंक एक्सपायरेशन डेट का इंतजार नहीं करेगा. वह फौरन कार्ड को ब्लॉक कर सकता है. इस मामले में एक्सपायरेशन डेट कोई मायने नहीं रखती. हालांकि अगर आपका क्रेडिट रिकॉर्ड ठीक है. सही समय पर बिल चुका देते हैं, लोन लिया है तो ब्याज पेंडिंग में नहीं डालते तो आपको परेशान होने की जरूरत नहीं. आप आराम से एक्सपायरेशन डेट तक कार्ड का इस्तेमाल कर सकते हैं. बाद में बैंक नया कार्ड भी आसानी से जारी कर देते हैं.

डिजिटल क्रेडिट कार्ड भी हो रहे हैं इश्यू

आजकल फिजीकल क्रेडिट कार्ड के साथ-साथ डिजिटल क्रेडिट कार्ड का भी प्रचलन है. कई बैंकों और कंपनियों ने अपने ग्राहकों को डिजिटल क्रेडिट कार्ड देना शुरू कर दिया है. इसके अलावा इन्हें लेने के लिए आपको बैंक के चक्कर भी नहीं काटने पड़ते. आप घर बैठे क्रेडिट कार्ड बनवा सकते हैं.

हमें फॉलो करें

(मार्केट अपडेट और जाने अमीर कैसे बने सिर्फ आपके Money9 हिंदी पर)

लेटेस्ट वीडियो

Money9 विशेष