HUL Results: हेल्थ, हाइजीन और न्यूट्रिशन कारोबार में मजबूती से कंपनी को 2,190 करोड़ का मुनाफा

HUL ने 17 रुपये प्रति शेयर के डिविडेंड का ऐलान किया है. वहीं मार्च तिमाही में कंपनी का वॉल्यूम ग्रोथ 16 फीसदी रहा.

HUL Results: हेल्थ, हाइजीन और न्यूट्रिशन कारोबार में मजबूती से कंपनी को 2,190 करोड़ का मुनाफा
HUL की कई तरह के सेक्टरों में मौजूदगी है. यह हॉर्लिक्स से लेकर डव, लक्स, वैसलीन, लैक्मे जैसे प्रॉडक्ट्स बनाती है. कंपनी का लक्ष्य अगले एक दशक में दहाई अंकों वाली EPS ग्रोथ दर्ज करना है

दिग्गज FMCG कंपनी हिंदुस्तान यूनिलिवर ने बृहस्पतिवार को जनवरी-मार्च तिमाही के नतीजे पेश किए हैं जिसमें कंपनी का कंसोलिडेटेड मुनाफा 44.8 फीसदी उछलकर 2,190 करोड़ रुपये रहा जबकि पिछले साल की चौथी तिमाही में ये 1,512 करोड़ रुपये रही थी. वॉल्यूम ग्रोथ भी डबल डिजिट में है. मार्च तिमाही में HUL की वॉल्यूम ग्रोथ 16 फीसदी रही – यानी कंपनी के सामान की बिक्री 16 फीसदी बढ़ी है. नतीजों के साथ ही कंपनी ने डिविडेंड का भी ऐलान किया है.

वहीं कंपनी की आय वित्त वर्ष 2021 की मार्च तिमाही में 35 फीसदी बढ़कर 12,433 करोड़ रुपये पर रही. वित्त वर्ष 2020 की मार्च तिमाही में HUL की आय 9,211 करोड़ रुपये रही थी.

नतीजे पेश करने के साथ ही कंपनी ने स्टॉक एक्सचेंज को दी जानकारी में कहा है, “हेल्थ, हायजीन और न्यूट्रिशन – जिन सेगमेंट्स में कंपनी का 80 फीसदी कारोबार है – उनमें लगातार तीसरी तिमाही डबल डिजिट में ग्रोथ रही है. वहीं डिस्क्रिशनरी और आउट-ऑफ-होम कैटेगरी में तिमाही दर तिमाही सुधार देखने को मिला है.”

ऑपरेटिंग स्तर पर HUL की EBITDA (ब्याज, टैक्स, कर्ज देनदारी और ऐसेट के मूल्यह्रास से पहले की आय) में 44.9 फीसदी का साल दर साल उछाल आया है. ये मार्च तिमाही में 3,043 करोड़ रुपये पर आई है. वहीं इस दौरान मार्जिन 24.5 फीसदी रही है.

HUL के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर संजीव मेहता ने नतीजों पर जानकारी देते हुए कहा, “आय और मुनाफे दोनों मोर्चों पर इस तिमाही हमारा प्रदर्शन अच्छा रहा है. इस चुनौतीपूर्ण समय में भी, वित्त वर्ष 2021 में हमारे बिजनेस ने बड़ी अड़चनों को पार किया और वैल्यू चेन में स्थिरता दिखाई है. इस मुश्किल घड़ी में भी हम अपने ग्राहकों को सुविधा देने में लगे हैं.”

पूरे वित्त वर्ष की बात करें तो HUL का टर्नओवर 18 फीसदी उछाल के साथ 45,311 करोड़ रुपये रहा. घरेलू कंज्यूमर ग्रोथ (GSK CH के मर्जर और वीवॉश के अधिग्रहण से अलग) 6 फीसदी रहा है. शुद्ध मुनाफा भी 18 फीसदी की बढ़त के साथ 7,954 करोड़ रुपये था. कंपनी ने निवेशकों के लिए 17 रुपये प्रति शेयर के डिविडेंड का ऐलान किया है.

पर्सनल फाइनेंस पर ताजा अपडेट के लिए करें।