सिर्फ सोचते रहेंगे तो रिटर्न की गाड़ी छूट जाएगी

Investment: निवेश शुरू करने के बारे में बस इरादे बनाते रह जाते हैं और ठोस कदम नहीं उठाते. सोचने से ज्यादा जरूरी है कि निवेश शुरू करना

सिर्फ सोचते रहेंगे तो रिटर्न की गाड़ी छूट जाएगी

Investment: निवेश कहां करें, कैसे करें, कब करें और कब नहीं, इन सभी सवालों की करें छुट्टी और शुरुआत करें निवेश की. मान लेते हैं कि आपके पास एक लाख रुपये का कॉर्पस है – आप इसे खर्च नहीं करना चाहते हैं लेकिन ये पैसे अपने बैंक अकाउंट में ही रखें या इसे निवेश करें? क्या निवेश करने का ये सही समय है या थोड़ा इंतज़ार करें?  इन सभी सवालों का जवाब Kuvera.in के फाउंडर और CEO गौरव रस्तोगी ने हाफीज जालंधीर के एक शेर में कहकर समेट दिया – ‘इरादे बांधता हूं, सोचता हूं, तोड़ देता हूं – कहीं ऐसा न हो जाए, कहीं वैसा न हो जाए’

निवेश (Investment) शुरू करने के बारे में बस इरादे बनाते रह जाते हैं और ठोस कदम नहीं उठाते. सोचने और बात करने से ज्यादा जरूरी है कि निवेश की शरुआत करें.

आपके पास एक लाख रुपये का कॉर्पस हो या 50,000, जरूरी ये है कि इसे इन्वेस्ट करें. निवेश कहां करें ये इस बात पर निर्भर करेगा कि आपको पैसे कब वापस चाहिए यानि आप कितने समय के लिए इस रकम को निवेश में बनाए रख सकते हैं. अगर आपके पास 10 साल से ज्यादा का समय है तो इक्विटी से जुड़े इन्वेस्टमेंट (Investment) कर सकते हैं. लेकिन अगर समय कम है तो डेट विकल्पों में निवेश कर सकते हैं. लंबी अवधि के लिए गोल्ड से जुड़े निवेश में भी एक्सपोजर लिया जा सकता है. लेकिन लंबे समय के लिए इक्विटी से जुड़े निवेश अच्छा रिटर्न देते हैं. 

SIP बनाम एकमुश्त

छोटी किश्तों में SIP करें या फिर एकमुश्त रकम निवेश करें? इस सवाल के जवाब में ज्यादातर पर्सनल फाइनेंस एक्सपर्ट SIP को बेहतर मानते हैं लेकिन Kuvera.in के फाउंडर और CEO गौरव रस्तोगी मानते हैं कि लंपसम निवेश (Lumpsum Investment) भी अच्छा रिटर्न दे रहा है. कुवेरा ने अपने एक रिसर्च में पाया कि 5 में से 3 लोगों को लंपसम निवेश में बेहतर रिटर्न मिला है. 

Kuvera.in के फाउंडर और CEO गौरव रस्तोगी के साथ पूरी बातचीत देखिए सेव नहीं, इन्वेस्ट कर में

हमें फॉलो करें

(मार्केट अपडेट और जाने अमीर कैसे बने सिर्फ आपके Money9 हिंदी पर)

लेटेस्ट वीडियो

Money9 विशेष