एक दिन में 6 महीनों में सबसे ज्यादा कोरोना मामले, AIIMS के डॉ रणदीप गुलेरिया से समझें बीमारी से कैसे बचें

COVID-19: अगर परिवार में किसी को संक्रमण हुआ है तो पूरे परिवार को क्वारंटीन होना चाहिए और इसे हल्के में लेने की गलती नहीं करनी चाहिए.

एक दिन में 6 महीनों में सबसे ज्यादा कोरोना मामले, AIIMS के डॉ रणदीप गुलेरिया से समझें बीमारी से कैसे बचें
Picture: mygov.in

COVID-19: भारत में एक दिन में 81 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं जो पिछले 6 महीनों में सबसे ज्यादा हैं. ऐसे में एक्सपर्ट्स ने चेताया है कि अगर लोग कोरोना के रोकथाम से जुड़े प्रोटोकॉल का पालन नहीं करते तो खतरा और बढ़ सकता है. एम्स (AIIMS) के प्रमुख डॉक्टर रणदीप गुलेरिया का कहना है कि कोविड-19 को रोकने के लिए जरूरी व्यवहार जैसे मास्क पहनना, दो गज की दूरी बनाना इसमें कमी की वजह से मामले बढ़ ररहे हैं. उन्होंने कहा, “फरवरी में लोगों को लगा की बीमारी का खतरा खत्म हो राह है और इसी वजह से ढिलाई हुई. मास्क ना पहनने, बीमारी को हल्के में लेने की वजह से ही मामले फिर से इतनी तेजी से बढ़े हैं.”

गुलेरिया ने लोगों से कुछ और हफ्ते कोविड-19 (COVID-19) के अनुरूप बिहेवियर का पालन करने की अपील की है जिससे तेजी से वैक्सीन लगाई जा सके, कोरोना को फैलने से रोकने में मदद मिले. उन्होंने कहा कि लोगों की सतर्कता और वैक्सीन में तेजी से ही बढ़ते मामले कम हो पाएंगे.

उन्होंने कहा है कि भारत में यूके वेरिएंट का खतरा बढ़ा है. 11000 सैंपल्स की जांच में 800 सैंपल यूके वेरिएंट से संक्रमित पाए गए हैं. ऐसे में टेस्टिंग, ट्रैकिंग, और आइसोलेशन में कोई चूक नहीं होनी चाहिए. अगर परिवार में किसी को संक्रमण हुआ है तो पूरे परिवार को क्वारंटीन होना चाहिए और इसे हल्के में लेने की गलती नहीं करनी चाहिए. साथ ही इस लड़ाई में अब भारत के पास वैक्सीनेशन के रूप में नया हथियार है जिसका तेजी से इस्तेमाल होना चाहिए.

भारत में गहराता कोरोना संकट

भारत में एक दिन में कुल 81,466 नए कोरोना (COVID-19) मरीज मिले हैं और 469 लोगों की कोविड-19 संक्रमण से मौत हो गई है. एक दिन में इससे ज्यादा मामले 6 महीने पहले 1 अक्टूबर को मिले थे. तब एक दिन में 81,484 संक्रमित पाए गए थे. आपको बता दें कि सितंबर 2020 में भारत में कोरोना संक्रमण का ग्राफ चरम पर था, तब एक दिन में 90 हजार से ज्यादा मामले सामने आए थे.

भारत में बढ़ते मामलों के साथ ही एक्टिव मामले 5 फीसदी हो गए हैं. देश में अब तक 1,23,03,131 लोगों को कोविड-19 संक्रमण (COVID-19 Infections) हो चुका है. इसमें से 1,15,25,039 यानि 93.68 फीसदी लोग ठीक हो चुके हैं. फरवरी में ही भारत में रिकवरी रेट 97 फीसदी के पार निकला था और इसमें लगातार गिरावट चिंता दर्शाती है. देश में कोरोना से मरने वालों की संख्या 1,63,396 हो गई है जो कुल मामलों का 1.33 फीसदी है.

हमें फॉलो करें

(मार्केट अपडेट और जाने अमीर कैसे बने सिर्फ आपके Money9 हिंदी पर)

लेटेस्ट वीडियो

Money9 विशेष