कैसे चुनें सही Financial Advisor?

गाइड कह लीजिए या कोच एक फाइनेंशियल एडवाइजर आपके निवेश को आगे बढ़ाता है और उसे दिशा देता है.

  • Money9 Hindi
  • Publish Date - September 15, 2021 / 06:47 PM IST



कहां निवेश करें? कितना रिटर्न मिल सकता है? मेरा पैसा कहां सुरक्षित रहेगा ? जब हम निवेश करते हैं तो इन सवालों को जवाब ढूढते हैं . लेकिन क्या आप इतनी मेहनत Financial Advisor को चुनने में करते हैं?  निवेश के सफर में ये किरदार अहम रोल निभाता है. गाइड कह लीजिए या कोच एक फाइनेंशियल एडवाइजर आपके निवेश को आगे बढ़ाता है और उसे  दिशा देता/ देती है. SEBI रजिस्टर्ड निवेश सलाहकार अमित कुकरेजा के मुताबिक अगर आप लंबे समय के लिए निर्धारित और जरूरी लक्ष्य जैसे कि बच्चों की पढ़ाई, रिटायरमेंट या फिर अचानक किसी बिमारी के खर्चे की तैयारी करना चाहते हैं तो फाइनेंशियल एडवाइजर से मदद लेना अच्छा रहता है.

क्या करता है Financial Advisor?
एक फाइनेंशियल एडवाइजर आपके वित्तीय मामलों को ही नहीं बल्कि  आपके पैसों के रवैये को भी मैनेज करता है.  एक फाइनेंशियल प्लान को बीच में बदलना पड़े तो उसे बदलकर आपके लक्ष्य को हासिल करने में मदद करता है. अमित कुकरेजा के मुताबिक एक फाइनेंशियल एडवाइजर के पास SEBI रजिस्ट्रेशन होना जरूरी है . SEBI की वेबसाइट पर एडवाइजर का रजिस्ट्रेशन चेक करें. SEBI रजिस्टर्ड एडवाइजर आपसे फीस लेकर प्लान बनाएंगें. जिन एडवाइजर के पास ये रजिस्ट्रेशन होता है वो फीस लेंगे और जो सलाह देने के लिए फीस नहीं लेते वो फाइनेंशेयल एडवाइजर नहीं बल्कि म्युचूअल फंड ड्रिय्ट्रिब्यूटर होते हैं और कंपनियां उन्हें फीस देती है. एक फाइनेंशियल एडवाइजर की फीस 15,000 से 1,00,000 रुपए तक हो सकती है . कुछ सलाहकार निवेश का एक हिस्सा भी बतौयर फीस लेते हैं. फी मॉडल सलाहकार की स्पेशलाइजेशन पर निर्भर करेगा.

अमित कुकरेजा के साथ पूरी बातचीत इस वीडियो में-

हमें फॉलो करें

(मार्केट अपडेट और जाने अमीर कैसे बने सिर्फ आपके Money9 हिंदी पर)

लेटेस्ट वीडियो

Money9 विशेष