यूं करें सही म्यूचुअल फंड का चुनाव, ये 9 टिप्स आएंगी काम

बाजार में सभी ही कंपनियों की कोशिश तो यही रहता है कि आपको बढ़िया रिटर्न दे लेकिन हर फंड का अपना के स्ट्रकचर होता है.



म्यूचुअल फंड(MF) में निवेश करने की सोच रहें हैं तो 45 MF कंपनियों के 2500 से ज्यादा फंड्स में से अपनी लिए सही म्यूचुअल फंड चुनना आसान नहीं ? बाजार में सभी ही कंपनियों की कोशिश तो यही रहता है कि आपको बढ़िया रिटर्न दे लेकिन हर फंड का अपना के स्ट्रकचर होता है. आपको अपने निवेश के पहले ये देखना होगा कि कोई भी फंड आपके निवेश के लक्ष्य में कितना फिट बैठता है ? जानकार मानते हैं कि अगर आप तीन साल से कम समय के लिए निवेश करना चाहते हैं तो डेट MF में निवेश करें और तीन साल से ज्यादा का समय है तो निवेशक को इक्विटी MF चुनना चाहिए.

टेक्निकल रेशियो को नजरअंदाज न करें !

कंपनियां जब भी कोई फंड उतारती है तो उसके साथ एक फैक्ट शीट भी लाती है. इस फैक्टशीट को अगर आप नजरअंदाज़ कर देते हैं क्योंकि उसमें दिए गए टेक्निकल जार्गन या रेशियो आपको भारी लगते हैं तो ऐसा न करें. ये वे पैमाने हैं जो आपको फंड के रिटर्न देने की क्षमता और मार्केट के उतार-चढ़ाव के बीच परफार्मेंस के मापदंड बताते हैं. जैसे कि स्टैंडरड डिविएशन आपको बताता है कि एक फंड में रिटर्न का रेंज क्या होगा ? कम से कम और ज्यादा से ज्याद कितना रिटर्न मिल सकता है . फंड का Alpha बताता है कि फंड अपने बेंचमार्क इंडेक्स को रिटर्न के मामले में पीछे छोड़ रहा है या नहीं.

इस वीडियो में है वो 9 जरूरी बाते जो आपको म्यूचुअल फंड में निवेश के पहले जाननी चाहिए ताकि आप सुनी सुनाई बातों पर नहीं बल्कि खुद समझकर MF में निवेश करें –

 

हमें फॉलो करें

(मार्केट अपडेट और जाने अमीर कैसे बने सिर्फ आपके Money9 हिंदी पर)

लेटेस्ट वीडियो

Money9 विशेष