रिटायरमेंट की प्लानिंग करने समय इन गलतियों को करने से बचें, नहीं तो पड़ेगा पछताना

एक गलती है जो लोग करते हैं वह है रिस्‍क लेने से बचना और उनका इक्विटी में निवेश नहीं के बराबर है. लेकिन इक्विटी में निवेश न करना अपने आप में रिस्‍क है.

  • Money9 Hindi
  • Publish Date - September 22, 2021 / 01:24 PM IST



 

एक छोटी सी गलती आपकी रिटायरमेंट प्लानिंग में बड़ा बदलाव ला सकती है. आखिर ऐसी कौन सी गलतियां हैं जो आपकी रिटायरमेंट प्लानिंग को बिगाड़ सकती हैं? मनी9 हेल्पलाइन पर फिनवाइज पर्सनल फाइनेंस की सह-संस्थापक प्रतिभा गिरीश से एक बेहतर रिटायरमेंट प्लान बनाने के बारे में सीखें.

मनिता: मैं 44 साल की महिला हूं और रिस्क लेने में बिल्कुल भी सहज नहीं हूं. मैं FD निवेश करने के साथ ही अपने घर की EMI भी भरती हूं. क्या अन्य संपत्तियों में निवेश करना जरूरी है?

गिरीश: फिक्स्ड डिपॉजिट महंगाई को मात नहीं दे सकता. वह आपके पैसे की कीमत को कम करता है. एक गलती है जो लोग करते हैं वह है जोखिम लेने से बचना और उनका इक्विटी जैसी संपत्तियों में निवेश नहीं करने के बराबर है. लेकिन इक्विटी में निवेश नहीं करना वास्तव में अपने आप में एक रिस्क है क्योंकि आप पैसा बनाने में सक्षम नहीं होंगे. जिससे आपकी पूंजी का स्थाई नुकसान होगा. इसलिए मुझे लगता है कि आपको म्यूचुअल फंड में निवेश करना चाहिए. जिन लोगों ने निवेश के लिए देर से प्लानिंग करना शुरू की है, उन्हें अपने निवेश को डबल कर देना चाहिए और इसे बढ़ाना भी चाहिए. इसी के साथ उन्हें लगातार निवेश करना चाहिए.

हमें फॉलो करें

(मार्केट अपडेट और जाने अमीर कैसे बने सिर्फ आपके Money9 हिंदी पर)

लेटेस्ट वीडियो

Money9 विशेष