7th CPC: सरकारी कर्मचारियों की बल्ले-बल्ले! होली से पहले बढ़ सकता है महंगाई भत्ता (DA)

फिलहाल, महंगाई भत्ता 17 फीसदी है. अगर 4 फीसदी की बढ़ोतरी होती है तो कुल भत्ता 21 फीसदी हो जाएगा. इससे सीधे तौर पर कर्मचारियों की सैलरी में अच्छी खासी वृद्धि होगी.

7th CPC: सरकारी कर्मचारियों की बल्ले-बल्ले! होली से पहले बढ़ सकता है महंगाई भत्ता (DA)
कोई भी व्यक्ति एलआईसी न्यू जीवन आनंद पॉलिसी खरीद सकता है. इस पॉलिसी के तहत न्यूनतम मूल बीमा राशि एक लाख रुपये है. सम एश्योर्ड की कोई अधिकतम सीमा नहीं है

7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर है. जल्द ही महंगाई भत्ता बढ़ सकता है. लंबे इंतजार के बाद केंद्र सरकार कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में इजाफा करने जा रही है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, होली से पहले कर्मचारियों के DA पर बड़ा ऐलान हो सकता है. केंद्रीय कर्मचारियों की नजर सरकार के फैसले पर टिकी हुई है. खबर है कि मोदी सरकार होली से पहले केंद्रीय कर्मचारियों के लिए ये बड़ा फैसला कर सकती है. बता दें, कोरोना काल में महंगाई भत्ता नहीं बढ़ने से सरकारी कर्मचारी निराश हैं.

21 जनवरी को आए AICPI के आंकड़ों से अंदाजा लगाया गया था कि केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में करीब 4 फीसदी का उछाल तय है. फिलहाल, महंगाई भत्ता 17 फीसदी है. अगर 4 फीसदी की बढ़ोतरी होती है तो कुल भत्ता 21 फीसदी हो जाएगा. इससे सीधे तौर पर कर्मचारियों की सैलरी में अच्छी खासी वृद्धि होगी. हालांकि, 7th Pay Commission के तहत कुल डीए बढ़कर 25 फीसदी हो जाएगा. लेकिन, पिछले बढ़े हुए डीए पर जून 2021 तक रोक है. इसलिए उसे कब तक रोलआउट किया जाएगा इस पर कोई फैसला नहीं लिया है.

32 फीसदी हो सकता है महंगाई भत्ता
मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो जून 2021 में महंगाई भत्ते (Dearness allowance) को बढ़ाकर 30 या 32 फीसदी तक भी किया जा सकता है. हालांकि, इसकी उम्मीद काफी कम लगती है. लेकिन, इससे केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी में करीब 15 फीसदी का उछाल आएगा.

पारिवारिक पेंशन को बढ़ाया
केंद्र सरकार ने हाल ही में पेश किए बजट के दौरान बड़ी घोषणा की थी. इसमें बताया गया कि सरकारी कर्मचारियों की मौत होने पर के परिवार वालों को पेंशन के रूप में अब 1.25 लाख रुपए मिलेंगे. अब तक यह सीमा अधिकतम 45 हजार रुपए थी.

क्या लिया गया फैसला
सरकार ने बजट में मृत सरकारी सेवक/पेंशनभागी के उन बच्चे/भाई-बहन के पेंशन को लेकर निर्देश जारी किया, जो मानसिक या शारीरिक रूप से नि:शक्त हैं. अगर कुल आय पात्र पारिवारिक पेंशन मृतक सरकारी सेवक/पेंशनभोगी द्वारा लिए गए अंतिम वेतन से 30 प्रतिशत से कम है तो वे पूरे जीवन के लिए पारिवारिक पेंशन के लिये पात्र होंगे. साथ ही वे महंगाई राहत के भी पात्र होंगे. इसमें कहा गया है कि केंद्रीय सिविल सेवा (पेंशन) नियम, 1972 के नियम 54 (6) के तहत मृत सरकारी सेवक या पेंशनभोगी के बच्चे/भाई-बहन मानसिक या शारीरिक रूप से नि:शक्त है और वह इसके कारण आजीविका अर्जित करने में असमर्थ है, तो पूरे जीवन पारिवारिक पेंशन के लिये पात्र होंगे.

पर्सनल फाइनेंस पर ताजा अपडेट के लिए करें।